जुर्म

अमेरिका में बच्चों का मर्डर कर खून पीना चाहती थी दो लड़कियाँ

11, 12 साल की उम्र में बच्चों को दुनियादारी समझ से परे होती है. यह ऐसा उम्र है जिसमें बच्चे अपने बचपन का आनंद उठाते हुए अपनें फ्यूचर को गढ़ रहे होते हैं. अगर हम कहें कि इस उम्र में कोई बच्चा अपनें साथियों के मर्डर , फिर उसके मांस खानें और खून पीनें का प्लान बनाता है तो कोई भी विश्वास नहीं करेगा. अमेरिका के फ्लोरिडा राज्य में एक ऐसा हीं वाकया सामने आया है जिसे सुनकर कुछ वक्त के लिए सब सोंचनें पर मजबूर हो जाएँगे.

सेंट्रल फ्लोरिडा में बारटोव शहर के मिडिल स्कूल में 11 और 12 साल की दो लड़कियों को उस समय पकड़ा गया जब वे दोनों चाकू के साथ घात लगाकर बैठे थे. बारटोव पुलिस के द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि ' मिडिल स्कूल की दो छात्राएँ स्कूल में चाकू के साथ पहुँची थी जिनका मकसद अपनें क्लासमेट की हत्या कर, उनके शव को काटकर उनके खून को पीना था. इसके लिए सारी जरूरी चीजें उनके पास थी'.

डिप्टी पुलिस चीफ ब्रायन डॉरमैन नें ईमेल करके मीडिया को जानकारी दी है कि 'दोनों लड़कियों पर फर्स्ट डिग्री मर्डर और स्कूल में हथियार ले जानें जैसी कई अन्य धाराएँ लगेंगी लेकिन यह प्रोसेक्यूटर को तय करना है कि उन दोनों पर जुवेनाइल एक्ट के तहत मुकदमा चलेगा या एडल्ट कानूनों के अंतर्गत'.

दोनों को फिलहाल जुवेनाइल कानूनों के तहत अरेस्ट कर जेल भेज दिया गया है. पुलिस एफिडेविट के अनुसार 'दोनों लड़कियाँ बाथरूम के पास छोटे बच्चों के आनें का इंतजार कर रही थी. वे दोनों, बाथरूम की तरफ आनेवाले छोटे बच्चों का गला काटकर, उनके बॉडी को टुकड़ा कर, उनके मांस को खानें और खून पीनें का प्लान कर चुकी थी. प्लान कम से कम एक को मारनें का था लेकिन यह संख्या 15 से 25 तक जा सकती थी.

पुलिस विज्ञप्ति के अनुसार 'दोनों छात्राएँ, इस उम्मीद के साथ बच्चों की हत्या का प्लान बनाई थी कि उन्हें मारनें के बाद वे सबसे बड़ी पापी हो जाएँगी, फिर जब वह सुसाइड करेंगी तो मरनें के बाद नरक में शैतान से मिलनें का मौका मिलेगा'. डिटेक्टिव के कहना है कि दोनों पिछले एक सप्ताह से अपनें घर पर इसी तरह की मूवी देखती थी और उससे हीं सीखते हुए यह प्लान बनाया.

दोनों का यह प्लान नेस्तनाबूद हो गया जब स्कूल प्रबंधन नें दोनों को क्लास में ना देखकर खोजबीन शुरू की तो उन्हें बाथरूम के पास स्टॉल पर बैठे देखा गया. जब ऑफिस में लाकर उनकी तलाशी हुई तो चार चाकू, एक पिज्जा कटर और एक चाकू को धार देनेंवाला बरामद किया गया. स्कूल प्रबंधन का कहना है कि इस सप्ताह स्कूल में पुलिस और मनोचिकित्सक मौजूद रहेंगे क्योकि बच्चे बहुत डरे हुए हैं.

670 total views, 4 views today

Facebook Comments

Leave a Reply