रूस में हजारों टन डीज़ल लीक, राष्ट्रपति पुतिन ने की इमरजेंसी की घोषणा

साल 2020 हर कदम पर कहीं न कहीं ख़ुद को मनहूस होने से नहीं नकार पा रहा है । वजह इसकी कोरोना ही नहीं पर पूरी दुनियां में भांति भांति के रूप में फैली तबाही है । अभी रूस से आ रही जानकारी के मुताबिक वहां के एक पॉवर प्लांट से हजारों लीटर डीज़ल लीक होने की खबर है।

पूरी ख़बर क्या है ?

रूस के साइबेरिया में एक पावर प्लांट से 20 हजार टन डीजल लीक हो गया। प्लांट से लीक हुआ डीजल बहकर शुक्रवार को अंबरनाया नदी में पहुंचा। जिसके बाद रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने स्टेट इमरजेंसी की घोषणा कर दी है। पावर प्लांट से डीजल बुधवार की लीक हुई थी। इस घटना की जानकारी लेट मिलने पर पुतिन अपने प्रशासन पर काफी नाराज भी हुए।

डीज़ल लीक होने से ना सिर्फ़ देश की अर्थव्यवस्था को धक्का लगा है पर साथ ही नदी में पहुंचने पर जलीय जीवों की जान भी खतरे में है। इस तरह के कृत्य ना सिर्फ पर्यावरण को चोटिल करते है पर sea फ़ूड के शौकीन मानव जीवन पर भी गहरा असर डालते है ।

दरअसल, प्लांट से लीक हुआ डीजल बहकर अंबरनाया नदी में पहुंचा। अंबरनाया नदी का पानी एक झील से मिलता है, जिसका पानी दूसरी नदियों से होते हुए आर्कटिक ओशियन तक पहुंचता है। बेशक ही इस दुर्घटना से पर्यावरण तथा जलीय जीवों को नुकसान पहुंचा है ।

फिलहाल जानकारी मिलने के बाद प्रशासन डीजल को रोकने कके प्रयास में लग गई है। बताया जा रहा है कि इस रिवास के कारण 1.30 करोड़ का नुकसान हो सकता है।

कोरोना संकट के बीच झारखंड में मिली 250 किलो सोने की खदान

क्या आप जानते हैं ये चौंकाने वाले मजेदार रोचक तथ्य!

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

 

Facebook Comments

Leave a Reply