राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद का बड़ा खुलासा, फ्रांस ने कहा हम स्वतंत्र हैं
दुनिया देश

राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद का बड़ा खुलासा, फ्रांस ने कहा हम स्वतंत्र हैं

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने भारत और फ्रांस के बीच हुए राफेल डील पर बड़ा खुलासा किया है । उन्होंने कहा है कि अनिल अंबानी की रिलायंस कम्पनी का नाम भारत सरकार ने ही उन्हें सुझाया था । जिसके बाद ओलांद के पास कोई और दूसरा विकल्प नहीं था इस लिए उन्हें भारत सरकार द्वारा सुझाये गए रिलायंस कंपनी को ही टेंडर देना पड़ा ।

ओलांद ने राफेल डील पर किया खुलासा

फ्रेंच अखबार 'मीडियापार्ट फ्रांस' को ओलांद ने अपना इंटरव्यू दिया है जिसके मुताबिक ओलांद का कहना था कि भारत सरकार के द्वारा नाम सुझये जाने के बाद ही द सॉल्ट एविएशन ने अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस से बातचीत शुरू की थी ।

बता दें कि भारत और फ्रांस के बीच यह डील उस समय हुई थी जब फ्रांस्वा ओलांद फ्रांस के राष्ट्रपति थे । भारत में इस मुद्दे को विपक्ष ने जोरों से उठाया था और रिलायंस डिफेंस को टेंडर दिए जाने के बहाने भाजपा सरकार को 2019 के चुनाव में भी घेरने की तैयारी कर रही है तो वहीं बीजेपी इस मुद्दे पर लगातार अपनी सफाई पेश कर रही है ।

फ्रांस सरकार ने कहा, फ्रेंच कम्पनी स्वतंत्र है

वहीं ओलांद के बयान पर फ्रांस सरकार ने कहा कि वह किसी भी तरह से भारतीय साझेदार कम्पनी के चुनाव में शामिल नहीं है यह चुनाव बिल्कुल भारत का है । जिसका चयन फ्रेंच कंपनी ने किया है या करने वाली है इसके लिए भारतीय खरीद प्रक्रिया के मुताबिक फ्रेंच कंपनी पूरी तरह स्वतंत्र है । उसे जो भी भारतीय साझेदार कंपनी सही लगे उसे चुन सकती है । उसके बाद उसकी मंजूरी के लिए भारत सरकार के पास भेजे और वो जिसे वो अपना स्थाई साझेदार बनाने के काबिल समझे उसका नाम वो आगे कर सकते हैं ।

प्रधानमंत्री ने देश के साथ विश्वासघात किया है: राहुल गांधी

फ्रांस्वा ओलांद के इस खुलासे के बाद फिर राफेल डील पर राजनीति गरम है और विपक्षीयों के द्वारा बीजेपी पर लगातार हमले किये जा रहे हैं । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा को प्रधानमंत्री ने देश के साथ विश्वासघात किया है जिसकी सजा देश की जनता उन्हें 2019 के चुनाव में देगी । तो वहीं इस मामले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री जी को अभी सच बोलने की जरूरत है । इसके बाद रक्षा मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि हम फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के इस बयान की जांच कर रहे हैं ।

Facebook Comments
Rahul Tiwari
राहुल तिवारी 2 साल से पत्रकारिता कर रहे हैं. वो इंडिया न्यूज़ में भी काम कर चुके हैं.
http://www.thenationfirst.com

Leave a Reply