ऐसे ही

आपसी रंजिश के कारण गणेश नगर फेज 2 की बी आर अम्बेडकर पुस्तकालय मे कई सालों से लटक रहा है ताला

दिल्ली के लक्ष्मी नगर से सटा गणेश नगर फेज 2 है जहां बी आर अम्बेडकर पुस्तकालय एवं वाचनालय है जो कि पिछले कई साल से बंद पड़ी हुई है । जब The Nation First की टीम वहाँ जायजा लेने पहुँची तो पाया की इस पुस्तकालय के मेन गेट को कार पार्किंग बना दिया गया है जहां आस पड़ोस की कारें पार्क की जाती हैं ।

और अगर पुस्तकालय की कैंपस की बात करें तो उसके कैंपस में गिट्टी और बालू रखा हुआ है और ये पुस्तकालय सिर्फ नाम का ही पुस्तकालय रह गया है क्योंकि इस पुस्तकालय में पुस्तकों की जगह गौतम बुद्ध की प्रतिमा स्थापित की गई है । जब हमने वहां मौजूद लोगों से पूछताछ की तो लोगों ने बताया कि ये पुस्तकालय दो लोगों की आपसी रंजिश का शिकार हो गया है इन दो लोगों में इसके चेयरमैन बनने को लेकर पिछले कई सालों से तना-तनी चल रही है।

                                                                                          पुस्तकालय कैंपस

दरअसल ये पुस्तकालय काफी साल पहले मंदिर हुआ करता था लेकिन बाद में इसे पुस्तकालय में तब्दील कर दिया गया । पड़ोस के लोगों का कहना है कि पुस्तकालय का ज़मीन वहीं के एक स्थानीय व्यक्ति ने मंदिर के नाम पर दान किया था जिसे अब मंदिर से पुस्तकालय में तब्दील कर दिया गया है । इस पुस्तकालय के बंद होने की दूसरी वजह है कि इसके उपर मुकदमा भी चल रहा है जिससे इसकी मेन गेट हमेशा बंद रहती है।

पुस्तकालय के कैंपस में एक साईकल रिपेरिंग की दुकान भी चलाई जाती है । जब इस दुकानदार से सवाल किया गया तो दुकानदार ने बताया की वो इस मे अपनी दुकान काफी सालो से चला रहा है जिसका वो किराया के रूप में 1450 रुपये हमेशा बैंक में जमा करता है ।
दो लोगों की आपसी रंजिश के कारण यहां के छात्रों को काफी परेशानीयों का सामना करना पर रहा है और नगर निगम ने भी इस बातों को दरकिनार कर चैन की सांस ले रही है।

591 total views, 3 views today

Facebook Comments

Leave a Reply