देश

तीन तलाक से तंग आकर मुस्लिम लड़की ने की हिन्दू लड़के से  शादी

मुस्लिम महिलाओं द्वारा तीन तलाक का मुद्दा विगत कई वर्षों से लगातार उठाया जा रहा है जिसका असर पुरे देश में है तीन तलाक़ से ही परेशान जोधपुर से 150 किलोमीटर दूर फ्लोदि गांव में एक मुस्लिम लड़की तस्लीमा ने हिन्दू लड़के से शादी कर ली ।लड़की का कहना है कि मुस्लिम परिवार में लड़कियों की मर्जी का कोई परवाह नहीं किया जाता है और शादी के बाद थोड़े से झगड़े में तीन बार तलाक कह देने के बाद उनका एक दूसरे से कोई सम्बन्ध नहीं रह जाता है लेकिन हिन्दू परिवारों में ऐसा नहीं है । लड़की  कहा कि मुझे बचपन से ही हिन्दू धर्म पसंद है क्योंकि हिन्दू धर्म में लोग महिलाओं का सम्मान करते है ।

खास बात यह है कि मुस्लिम लड़की ने शादी हिन्दू रीति रिवाज़ों से फ्लोदि के एक मंदिर में की ।तस्लीमा का कहना है कि मैं पहले अपने लाइफ में खुश नहीं थी लेकिन अब मैं काफी खुश हूँ क्योंकि हिन्दू धर्म  एक  मात्र धर्म है जिसमे हिन्दू  पुरुष अपनी पत्नी के सिवा दुसरों को बहन बेटी की नज़र से देखते है लेकिन मुस्लिम परिवार में ऐसा नहीं है  । इस धर्म में सिर्फ पुरुषों की मनमानी चलती है जिससे मैंने तंग आकर हिन्दू लड़के से शादी किया है ।

आप को बता दें कि मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों के लिए काम करने वाली संगठन भारतीय मुस्लिम महिला संगठन ने तीन तलाक को खत्म करने की मांग को ले कर हाल ही में पूरे भारत के 50,000 मुस्लिम महिलाओं के हस्तछार लिए है और राष्ट्रीय महिला आयोग से इस मामले में मदद मांगी है । बीएमएम प्रमुख नूरजहां साफिया नियाज़ का कहना है कि मुस्लिम महिलाओं को संविधान में समानता का अधिकार प्राप्त  है और अगर कोई व्यवस्था समानता और न्याय के बुनयादी सिद्धान्तों के खिलाफ है तो उसमें पूर्ण बदलाव होना चाहिए ।

 

- राहुल तिवारी

4,297 total views, 13 views today

Facebook Comments

Leave a Reply