देश

अमृतसर ट्रेन हादसा : ड्राइवर ने किया एक बड़ा खुलासा कैसे हुई 59 लोगों की मौत

पंजाब के अमृतसर में दशहरे के दिन हुए रेल हादसे में एक नया मोड़ आया है । उस शाम जिस ट्रेन से हादसा हुआ, उसके ड्राइवर ने एक खुलासा किया है । ड्राइवर का कहना है कि जब वहां ट्रेन पहुंची तो मैनें इमरजेंसी ब्रेक लगाया था लेकिन तभी लोगों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी जिस कारण मुझे स्पीड फिर से बढ़ाना पड़ा । रेलवे ड्राइवर ने अपनी बातों को लेटर द्वारा विस्तार से बताया है ।

ड्राइवर ने लेटर में लिखा है कि जैसे ही वहां ट्रेन पहुंचने वाली थी, तभी मैनें देखा कि ट्रैक पर काफी भीड़ है. मैंने भीड़ को हटाने के लिए हॉर्न का सहारा लिया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. भीड़ अधिक होने के कारण लोगों ने हॉर्न की आवाज़ नहीं सुनी. इसलिए तुरंत बाद मैंने इमरजेंसी ब्रेक लगाया । ट्रेन रुकने हीं वाली थी कि तब तक लोगों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी इसलिए मैनें यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ट्रेन की स्पीड को बढ़ा दिया ।हालांकि उसकी यह थ्योरी घटना के विडियो और प्रत्यक्षदर्शियों के बयान के ठीक विपरीत है.

अमृतसर में दशहरे के दिन जहां रावण दहन का आयोजन किया गया था. उस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर मौजूद थी लेकिन जैसे ही यह हादसा हुआ वो वहां से निकल गईं । उनके वहां से चले जाने के कारण उन्हें लगातार आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है । इस बीच एक विडियो में मिसेज सिद्धू के रहते स्टेज एंकर अनाउंस कर रहा था कि '5000 लोग पटरियों पर हैं. चाहे इसके लिए 500 ट्रेनें क्यों ना रूक जाए'.

यह भी पढ़ें : रो रहा है अमृतसर, रावण बनकर आए ट्रेन नें सैकड़ों को रौंदा

वहीं नवजोत कौर पर बीजेपी ने आरोप लगाया है कि उस कार्यक्रम की अनुमति नहीं थी फिर भी वो वहाँ क्यों चली गईं । लेकिन जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं वहां एक अथिति के तौर पर गई थी इसलिए अनुमति का ख्याल करना मेरा काम नहीं है ।

हालांकि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस हादसे की मजिस्ट्रेट जांच का आदेश दिया है । उन्होंने कहा कि इस जांच के लिए एक महीने का समय दिया गया है. इसके बाद देखा जाएगा कि गलती किसकी है, लेकिन हाँ गलती किसी की भी हो उसे सजा जरूर मिलेगी । इस जांच की जिम्मेदारी जालंधर के मंडल आयोग को सौंपी गई है जिसमें उन्हें निष्पक्ष तरीके से रिपोर्ट तैयार हो इसका ख्याल रखना है ।

Facebook Comments
Rahul Tiwari
राहुल तिवारी 2 साल से पत्रकारिता कर रहे हैं. वो इंडिया न्यूज़ में भी काम कर चुके हैं.
http://www.thenationfirst.com

Leave a Reply