भय्यू जी महाराज ने अपने सुसाइड नोट में लिखा, इसलिए कर हूँ आत्महत्या
देश

भय्यूजी महाराज ने अपने सुसाइड नोट में लिखा, इसलिए कर रहा हूँ आत्महत्या

जाने माने आध्यात्मिक गुरु भय्यू जी ने मंगलवार को अपने ही लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली । उन्होंने आत्महत्या करने से पहले एक सुसाइड नोट लिखा है। सुसाइड नोट के अनुसार भय्यू जी काफी परेशान थे , तनाव में थे , वो जिंदगी से ऊब चुके थे । उन्होंने लिखा है कि मैं थक चुका हूं मेरे परिवार की देख रेख की ज़िम्मेदारी कोई उठा ले मैं जा रहा हूँ । हालांकि अभी तक ये खुलासा नहीं हो पाया है कि भय्यू जी आखिर इतने तनाव में क्यों थे । लेकिन कयास लगाया जा रहा है कि उनकी आत्महत्या करने की वजह पारिवारिक मसला था । उनकी दूसरी पत्नी और बेटी के बीच संपत्ति को लेकर विवाद हो रहा था जिससे थक कर भय्यूजी ने आत्महत्या कर लिया ।

बता दें कि समाजसेवी अन्ना हज़ारे और प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी जब 2013 में अनसन पर बैठे हुए थे तब भय्यू जी को ही अनसन तोड़वाने की जिम्मेदारी दी गई थी जिसे उन्होंने बखूबी निभाया था । भय्यूजी के पिता कांग्रेस के जाने माने नेता थे इसलिए एक संत होते हुए भी भय्यूजी नेताओं के काफी करीब थे । भय्यूजी पहले उदय सिंह देशमुख के नाम से जाने जाते थे लेकिन आध्यात्मिक गुरु बनने के बाद इन्हें भैय्यू जी के नाम से प्रसिद्धि प्राप्त हुई ।

मिला था राज्य मंत्री बनने का ऑफर

50 साल की उम्र में दूसरी शादी करने वाले भय्यू जी को मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने राज्यमंत्री पद ऑफर किया जिसे उन्होंने ठुकरा दिया था उस समय ये काफी चर्चा में थे । भय्यू जी को पद ऑफर करने के बाद शिवराज सरकार पर विपक्ष ने आरोप लगाया था कि भय्यू जी शिवराज सरकार के खिलाफ नर्मदा घोटाले को लेकर रथयात्रा निकालने वाले थे जिसे दबाने के लिए भय्यूजी को राज्यमंत्री का पद ऑफर किया गया था ।

 

282 total views, 6 views today

Facebook Comments

Leave a Reply