वेदांती महाराज | yogi adityanath | narendra modi
देश विचार

वेदांती महाराज कोई नए विधाता नहीं हैं, इन आंखों ने बहुत देखे हैं मंदिर बनाने वाले

केंद्र में मोदी सरकार है तो उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार है। इसके बावजूद भी राम मंदिर का निर्माण नहीं हो पाया . केंद्र में मोदी सरकार को आए तो 4 साल से ज्यादा हो गया है लेकिन राम मंदिर बनवाने के नाम पर हर बार केवल बयानबाजी ही होती रही है . […]

70 total views, 7 views today

तलाक और हलाला के नाम पर मुस्लिम महिलाओं के शोषण का जिम्मेदार कौन ?
विचार

तलाक और हलाला के नाम पर मुस्लिम महिलाओं के शोषण का जिम्मेदार कौन ?

ये तो सच है इस देश में जितनी संख्या मुस्लिम महिलाओं के रहनमाओं की है उतनी हिंदू महिलाओं के रहनुमाओं की भी नहीं है, क्योंकि तीन तलाक हो या हलाला, महिलाओं की शिक्षा हो या आजादी, सभी मामलों में हिंदुओं को लगता है कि मुस्लिम महिलाओं को उनका हक नहीं मिल रहा, इसीलिए तो रुक […]

272 total views, 4 views today

bharat bandh on 6th september sc-st act | सवर्ण का भारत बंद
विचार

बीजेपी ये ना भूले... जो सत्ता में बिठाना जानता है वो सत्ता से बेदखल करना भी जानता है

एक कहावत है जो जन्म देना जानता है वो मिटाना भी जानता है । आज बीजेपी की सत्ता भारत के 21 राज्यों में है और इस सत्ता को दिलाने में सबसे ज़्यादा योगदान सवर्णों का है लेकिन बीजेपी उनके मांग को ही अनदेखा कर रही है जिस कारण आज सवर्णों ने भारत बंद का आवाहन […]

272 total views, 2 views today

अम्बेडकर मेरे हैं
विचार

अम्बेडकर मेरे हैं

आज-कल सभी राजनीतिक दलों में एक अजीब सी होड़ मची हुई है. मैं यहाँ ‘अजीब’ इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि ये कोई ऐसी-वैसी होड़ नही है, ये होड़ है हमारे संविधान के जनक बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर को अपना बनाने की, उस पर अपना राजनीतक ठप्पा लगाने की . आज देश के सभी राजनीतिक […]

1,324 total views, no views today

राजनीति विचार

कर्नाटक चुनाव: बीजेपी या कांग्रेस आखिर किसने की लोकतंत्र का हत्या ?

कर्नाटक के चुनावी परिणाम आने के बाद से ही पूरे देश की निगाहें कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद पर टिकी हुई है । बीजेपी हो या कांग्रेस सत्ता पाने के जोर आजमाइस में दोनों ही एक दुसरे को पीछे छोर दिया । कांग्रेस तो इतनी ताकत और निष्ठा के साथ इस कार्य को किया कि खुद […]

2,753 total views, 2 views today

विचार

ब्राह्मण और दलित से पहले हम एक इंसान हैं

दो साल पहले एक किताब हाथ लगा था नाम था वाइट टाइगर जो अरबिंद अडिग के द्वारा लिखा गया है।अंग्रेजी साहित्य की सबसे प्रतिष्ठित मैन बुकर पुरस्कार यह किताब जीत चूका है । बिहार की पृष्ठभूमि पर लिखी गई ये किताब बिहार के एक जाति जिसको हम भूमिहार ब्राह्मण कहते हैं उसपर काफी कटाक्ष करते […]

1,414 total views, 7 views today

विचार

अम्बेडकर ने तंग आ कर छोड़ा था हिन्दू धर्म तो गांधी ने दिया था एक 'यूनिक' नाम

भारत एक ऐसा देश है जहां लोग अपनी पहचान एक भारतीय के रूप में न करा कर पहले अपनी जाति से खुद की पहचान को दर्शाते हैं भले हीं वो डायरेक्ट रूप से सामने वाले कि जाति न पूछें लेकिन इनडाइरेक्ट रूप से सामने वाले कि जाति ज़रूर जानना चाहते हैं और अगर सामने वाला […]

2,738 total views, 2 views today

विचार

आखिर कभी तो सुधरेगी भारतीय रेलवे

भारतीय ट्रेनें समय से चल रही हैं। पटरियाँ काफी दुरूस्त हो गई हैं। बिहार से दिल्ली जानें में मात्र पाँच घंटे लगते हैं। रेलवे स्टेशन शॉपिंग माल की तरह चमक रहे हैं। सारे स्टेशन पर अनलिमिटेड फ्री वाईफाई है। यात्रा से कुछ घंटे पहले भी टिकट आसानी से मिल जा रहा है। रेलवे के राजस्व […]

1,255 total views, 1 views today

देश राजनीति विचार

राजनीतिक उबाल और बिहार से युवाओ का पलायन

बिहार केवल एक ऐसा राज्य बनकर रह गया है जहां सिर्फ सत्ता मे बने रहने के लिए अब राजनीति होती है और विकास तो जैसे सिर्फ यहां के युवाओं के सपनो मे आती हो और राजनीतज्ञों के विकास मॉडल  पर नजर आती है शायद यह बिमारी बिहार को ऐसे जकड़ चुकी की है मानो वहां […]

2,535 total views, 4 views today

जुर्म विचार

भारत की एक ऐसी प्रथा जिसके कारण रोज कई महिलाएं मौत को गले लगाती है

भारत एक ऐसा देश है जहां धर्म, संस्कृति और रीति-रिवाज का सबसे ज्यादा ख्याल रखा जाता है और इस रीति-रिवाज को नीभाने के चक्कर मे भारतीय समाज मे कुछ ऐसा हो जाता है जो इस समाज के लिए कई बार घातक सिद्ध होता है और फिर हम हाय तौबा करते रह जाते हैं और यह […]

2,611 total views, 5 views today