राजनीति विचार

आज का नारा मै दलित हूँ  मै दलित हूँ

आज का नारा मै दलित हूँ  मै दलित हूँ  , जी हां आज के राजनीति मे दलित होना अधिक फायदेमंद है क्योंकि सारे पार्टी चाहे वो सत्ताधारी हो या फिर विपक्ष बस यही चिल्ला रही है कि हमारे पास दलित है, तो हमारे पास दलित है और चिल्लायें भी क्यों ना इनके हिसाब से दलित […]

3,310 total views, 8 views today

देश विचार

देश की आत्मा का आत्मदाह !

अगर बात पूरे विश्व की करें तो मात्र भारत ही एक ऐसा देश है जहां की सबसे अधिक अबादी गांवो मे बसती है. और कहा भी जाता है कि गांव देश का शरीर होता है  और वहां के किसान उसकी आत्मा लेकिन एक सामान्य सा सवाल है कि अगर आत्मा ही ना रहे तो उस […]

3,296 total views, 5 views today

विचार

कभी शिक्षा से गौरव कमाने वाला यह राज्य आज अपनी थू थू करवा रहा है

सत्ता के झरोखे से दुनिया को आईना दिखाने वाला बिहार को गर्त में ले जाने वाले इन दल-बदलू नेताओं की तस्वीर को आईना के सामने नर्तन करवा के क्या फायदा ? कहा जाता है की किसी भी चीज को विकसित करने के लिए शिक्षा का होना बहुत ही आवश्यक है लेकिन ये क्या 21वी सदी […]

1,708 total views, no views today

विचार

किसी भी रेप के लिए लड़कियां ही जिम्मेदार...???

कल मैंने फेसबुक पर एक पोस्ट निर्भया कांड पर सुप्रीम  कोर्ट में हुई सुनवाई को लेकर पढ़ा। दोस्तों सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान एक लड़की के लिए किस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया गया..  क्या आप जानते हैं ?  आइए हम आपको बताते हैं.. वैसे तो सुप्रीम कोर्ट ने चारो आरोपियों पवन,मुकेश, विनय […]

2,236 total views, 2 views today

देश विचार

बातें मत हांकिए अपनी सोंच बदलिए साहब

भारतीय समाज एक ऐसा समाज है जहां महिलाओं को आदि-काल से ही अपने घर की लक्ष्मी के रुप मे देखा जाता है और कभी दुर्गा के रुप मे तो कभी सरस्वती के रुप मे उसकी पुजा की जाती है , संस्कृत मे एक श्लोक  है ‘यस्य पुज्यंते नार्यस्तु तत्र रमंते देवता:’ जिसका अर्थ है जहां […]

2,944 total views, 11 views today

जुर्म विचार

दलालों के हाथों तिलता देश का भविष्य

चाइल्ड बेगर इन इंडिया . अगर कोई बच्चा भीख मांगता हुआ दिखे तो आपको कैसा प्रतीत होगा , आये दिन हम लोग मेट्रो , रेलवे स्टेशन,मंडी और ना जाने कँहा-कहाँ बच्चो को भीख मांगते हुए देख लेते है. यह भी पढ़ें : रेड लाईट पर भारत का भविष्य कभी आपने सोचा कि  ये बच्चें इतने छोटे […]

3,604 total views, 6 views today

देश राजनीति विचार

अयोध्या विवाद : कब तक सेकोगे राम- बाबरी पर रोटी ?

अयोध्या विवाद एक ऐसा विवाद है जो राजनीतिक, ऐतिहासिक और समाजिक- धार्मिक भावनाओं से उभरा है , इस विवाद का जन्म 6 दिसम्वर 1992 को ही हो चुका था । इस विवाद का मुख्य कारण है दो समुदायों की आस्था और जब हमारे देश मे बात आस्था कि होती है तो कोई अपना सर कलम […]

4,957 total views, 9 views today

सुकमा नक्सली हमला
देश विचार

और कब तक करेंगे हम बस यूं ही निंदा ?

सोमवार को छत्तीसगढ़ के सुकमा से एक बार फिर देश को झकझोर देने वाली खबर सामने आई , एक बार फिर हमारे जवानों को नक्सलियों के गंदे मंसूबे का शिकार होना पड़ा। सुकमा के इस नक्सली हमले में हमारे सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हो गए और हमेशा की तरह सत्ता के हुक्मरानों ने खानापूर्ति […]

2,914 total views, 5 views today

विचार

वंदे मातरम पर इतना घमासान क्यों ?

विगत कई वर्षों से हमारे देश मे वन्दे मातरम बोलने और ना बोलने को लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है । इस मुद्दे पर कभी संसद मे तो कभी सड़कों पर विरोध प्रदर्शन किया जाता है मुझे ये समझ नहीं आता कि एक तरफ तो हम गर्व से कहते है कि हम भारतीय हैं , […]

3,095 total views, 7 views today

विचार

एक कड़वा सत्य देश के नाम

हमारा देश भारत तो 15 अगस्त 1947 को ही फिरंगियों से आज़ाद हो गया था लेकिन हम मासूम जनता को क्या पता था की “घर का भेदी लंका ढहाऐ ” वाली कहावत हम लोगो पर भी दोहराई जा सकती है | एक ओर जहाँ हम 15 अगस्त यानी भारत की आज़ादी की खुशियाँ मनाते है […]

2,634 total views, 3 views today