आर्टिकल 370 पर बंटा मुलायम परिवार
राजनीति

आर्टिकल 370 पर बंटा मुलायम परिवार, छोटी बहू अपर्णा बोलीं- ऐतिहासिक फैसला

उत्तर प्रदेश की राजनीति पर गहरी पकड़ रखने वाला यादव परिवार पिछले कुछ सालों से आपसी मतभेद और मनमुटाव में ही उलझा पड़ा हैं. मुलायम सिंह के राजनीतिक उत्तराधिकारी बनने की होड़ में अखिलेश और शिवपाल लड़ बैठे, अखिलेश ने शिवपाल को पार्टी से निकाल खुद सपा के अध्यक्ष पद की कुर्सी पर बैठ गये, यादव परिवार टूट गयी, इधर शिवपाल ने एक अलग पार्टी बना ली.

अब हालत ऐसी हो गयी है कि समाजवादी पार्टी को कई बार अपने ही परिवार में विरोध का सामना करना पड़ता है. कई मुद्दों पर अखिलेश यादव के साथ खुद उनके परिवार वाले नहीं खड़े होते हैं, उल्टा उनके खिलाफ आवाज बुलंद करने लग जाते हैं. फिर चाहे आप बात चाचा शिवपाल की कीजिये या छोटे भाई प्रतीक यादव की पत्नी अपर्णा की. हाल ही में अपर्णा यादव और अखिलेश यादव के बीच कई मुद्दों पर अलग-अलग राय देखी गयी है. वहीं, शिवपाल और अखिलेश के बीच कितनी बनती है ये तो जग जाहिर है... बताने वाली कोई बात ही नहीं है.

इधर, एकबार फिर अखिलेश और अपर्णा की एक ही मुद्दे पर अलग-अलग राय देखने को मिली है. दरअसल, कश्मीर से धारा 370 और 35 'ए' हटाये जाने को लेकर दोनों की राय अलग-अलग हैं. एक तरफ जहाँ अखिलेश यादव ने संसद में भाषण देते हुए सरकार के इस कदम को असंवैधानिक बताया वहीं अपर्णा यादव ने बीजेपी सरकार के इस कदम को सराहा है.

अखिलेश ने धारा 370 पर अपने भाषण में कहा कि लोकतंत्र में छल, कपट और बल का उपयोग लोकतांत्रिक नियमों का उलंघन है. लोकतंत्र में सहमति और भरोषे से फैसले होने चाहिए, सभी दलों को बातचीत का हिस्सा बनाना चाहिए. वहीं, अपर्णा यादव ने 370 के मुद्दे पर कहा कि वह इस एतिहासिक फैसले से खुश है. अपर्णा ने ट्विटर पर लिखा कि "आज के इस ऐतिहासिक फैसले से पूरा देश ख़ुश है,अराजक तत्वों का दमन नागपंचमी के शुभ दिन हुआ इससे और भी ख़ुशी है. देश की अखंडता और सौहार्द के लिए आवश्यक निर्णय. इसको हिंदू मुसलमान अलगाव के चश्मे से ना देखें जय हिंद."

एक ही मुद्दे पर अखिलेश और अपर्णा दोनों की बातों में आकाश और पाताल का अंतर है. दोनों के सिद्धांत अलग-अलग हैं. दोनों की राहें भी अलग नजर आती है. ऐसे में मुलायम परिवार में सब कुछ ठीक होने के दावा महज एक खोखलापन लगता है. दो पटरी पर चल रहे इस एक परिवार में आगे आखिर क्या होगा, ये देखने वाली बात है.

जब मुलायम सिंह के प्रधानमंत्री बनने के सपने पर पत्रकार कुलदीप नैयर ने पानी फेर दिया था

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments
Praful Shandilya
praful shandilya is a journalist, columnist and founder of "The Nation First"
http://www.thenationfirst.com

Leave a Reply