राजनीति

शरद गुट ने बनाई एक नई पार्टी, बीजेपी को सत्ता से उखाड़ फेकना होगा लक्ष्य

जदयू के बागी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव अब एक नई पार्टी बनाने जा रहे हैं जिसका नाम होगा लोकतांत्रिक जनता दल । हालांकि शरद गुट ने पार्टी बनाने को लेकर दो नामों का सुझाव दिया था जिसमें पहला नाम समाजवादी जनता दल और दूसरा लोकतांत्रिक जनता दल था । इन दोनों नामों में से लोकतांत्रिक जनता दल पर मुहर लगा कर चुनाव आयोग के पास भेज दिया गया है लेकिन अभी तक पार्टी का चुनाव चिन्ह तय नहीं किया गया है।

18 मई को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में शरद गुट के नेताओं का एक सम्मेलन आयोजन किया जायेगा जिसमें पार्टी गठन की औपचारिक घोषणा की जाएगी साथ ही पदाधिकारीयों के नाम का भी ऐलान किया जाएगा । सुशीला मोराले को पार्टी का महासचिव बनाया गया है तो वहीं इस पार्टी में शरद यादव खुद किसी भी पद पर आसीन नही होंगे लेकिन वो इसके संरक्षक बने रहेंगे । सूत्रों के अनुसार इस पार्टी में प्रोफेसर रतन लाल को कोई बड़ा पद दिया जा सकता है

आपको बता दें कि इस पार्टी के गठन का मुख्य उद्देश्य बीजेपी को केंद्र से उखाड़ फेंकना है । रतन लाल का कहना है कि हम दलितों , पिछड़ों, महिलाओं और अल्पसंख्यकों से जुड़े मुद्दों को उठाएंगे । देखना अहम होगा कि इस पार्टी के सहारे शरद यादव अपनी साख बचा पाने में कितना हद तक सफल होंगे क्योंकि फिलहाल उनकी राज्य सभा की सदस्यता रद्द है जिसे उन्होंने राज्यसभा के सभापति के फैसले को दिल्ली हाइकोर्ट में चुनौती दी है लेकिन मामला अब तक निलंबित है ।

बात दें कि जब पिछले साल जदयू ने महागठबंधन से खुद को अलग कर बीजेपी के साथ गठबंधन की सरकार बनाई थी तब से शरद यादव नीतीश कुमार का खुलेआम आलोचना करना शुरू कर दी थी जिसका परिणाम हुआ कि जदयू ने शरद यादव के साथ साथ 21 अन्य को पार्टी से निकाल दिया था और इसके बाद राज्यसभा के सभापति को पत्र लिखकर पार्टी के नेता पद से भी हटवा दिया था ।

यह भी पढ़ें:

नीतीश ने दी खुली चूनौती, हिम्मत है तो पार्टी को तोड़ कर दिखाएँ

नीतीश के इस एक गलती से टूट गई 13 साल पुरानी दोस्ती

 

Facebook Comments

Leave a Reply