कमलनाथ सरकार के तीन बड़े फैसले जो आपको जरूर जानने चाहिए
राजनीति

कमलनाथ सरकार के तीन बड़े फैसले जो आपको जरूर जानने चाहिए

कांग्रेस ने जैसा अपने वचन पत्र में वादा किया था, ठीक वैसे ही सरकार बनते ही सीएम कमलनाथ ने अपने वादे पूरे करने शुरू कर दिए हैं। सीएम कमलनाथ धनाधन बड़े फैसले लेते जा रहे हैं और अपने वचन पत्र को जल्द से जल्द पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं। कमलनाथ सरकार के गठन को 2 हफ्ते हो गए हैं।

इन 2 हफ्तों में कमलनाथ सरकार के तीन बड़े फैसलों की बात करें तो सबसे पहला फैसला कर्जमाफी का आता है। जिसमें कमलनाथ ने कर्जमाफी करते हुए किसानों का 12 दिसंबर 2018 तक लिए गए 2 लाख के कर्ज को माफ किया है। बता दें कि पहले पहले सिर्फ सरकार 31 मार्च 2018 तक का ही कर्ज माफ करने वाली थी। जिसे सीएम कमलनाथ ने बढ़ाकर 12 दिसंबर 2018 तक कर दिया और 5 जनवरी को हुई कैबिनेट बैठक में इस पर कैबिनेट ने अपनी फाइनल मुहर लगा दी।

इस योजना से पूरे प्रदेश के 55 लाख किसानों को फायदा मिलेगा। इसमें सरकार ने सबसे ज्यादा जोर लघु और सीमांत किसानों को फायदा पहुंचाने पर दिया है। बता दें कि लगभग 35 लाख लघु और सीमांत किसानों का कर्जा माफ होगा। फिर चाहें किसानों ने सहकारी, सार्वजनिक क्षेत्र या क्षेत्रीय बैंकों से कर्ज क्यों ना लिया हो।

कभी संजय गाँधी के जिगरी दोस्त रहे नौ बार के सांसद कमलनाथ की कहानी

मध्यप्रदेश सरकार के दूसरे बड़े फैसले की बात करें तो कन्यादान राशि आती है। बता दें कि कन्यादान राशि के तहत बेटियों को पहले 28 हजार की कन्यादान राशि दी जाती थी। जिसे बढ़ाकर कमलनाथ सरकार ने 51 हजार कर दिया है। जिसमें से विवाह कार्यक्रम के लिए अधितर निकायों को 5 हजार रुपये प्रति कन्या के सामग्री की कीमत और 3 हजार की प्रति पूर्ति राशि तथा शेष बचे 43 हजार रुपये सीधे लड़की के बैंक खाते में जमा कराए जाएंगे। वहीं शासन की तरफ से योजना का लाभ प्राप्तस करने के लिए आय सीमा का बंधन खत्म कर दिया गया है।

वहीं कमलनाथ सरकार की तीसरे बड़े फैसले की बात करे तो प्रदेश के युवाओं के लिए प्रदेश के उद्योगों में 70 फीसदी आरक्षण तय करना है। बता दें इस फैसले के तहत नए उद्योग लगाने पर या मध्य प्रदेश में निवेश करने पर उद्योगपतियों को अब सिर्फ तभी सब्सिडी मिलेगी जब उद्योगों में 70 प्रतिशत रोजगार स्थानीय लोगों को दिया जाएगा। जिससे किसानों के साथ साथ कमलनाथ सरकार ने लोकसभा चुनाव के लिए युवाओं को भी लोकसभा चुनाव को लेकर साधने की कोशिश की है।

331 total views, 4 views today

Facebook Comments

Leave a Reply