मान गये पासवान, बिहार में इस फ़ॉर्मूले से होगी NDA में सीट शेयरिंग
राजनीति

मान गये पासवान, बिहार में इस फ़ॉर्मूले से होगी NDA में सीट शेयरिंग

बिहार में लोकसभा सीटों को लेकर चल रहा खींचातानी अब समाप्त हो चुका है । जदयू ,लोजपा और बीजेपी के बीच सीट शेयरिंग का फार्मूला तय हो गया है । बीजेपी और जदयू दोनों 17 -17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और लोजपा यानी रामविलास पासवान के खाते में 6 सीटें गई हैं । इसके साथ ही अपने कोटे से बीजेपी असम में राज्यसभा सीट रामविलास पासवान को देगी ।

आपको बता दें कि रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग पासवान लगातार इस मुद्दे पर बातचीत के लिए बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के संपर्क में बने हुए थे । इस संबंध में ही गुरुवार को लोजपा के दोनों शीर्ष नेताओं ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की । उसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी दिल्ली पहुंचे । माना जा रहा है कि लगभग अब सीट शेयरिंग के तय फार्मूले पर मुहर लग गई है ।

उपेंद्र कुशवाहा के NDA से अलग होने के बाद नाराज चल रहे लोजपा को मनाने की कवायत चल रही थी इसी बीच CM नीतीश कुमार दिल्ली पहुंचे । हालांकि CM नीतीश कुमार के दिल्ली दौरे को लेकर जदयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा कि नीतीश कुमार का दिल्ली आना पहले से ही तय था । नीतीश कुमार दिल्ली राजनीतिक मनसा से नहीं बल्कि वो एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए दिल्ली आए थे । लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नीतीश कुमार बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात करेंगे और NDA में चल रहे विवाद पर सदा के लिए विराम चिन्ह लगा देंगे ।

महागठबंधन में शामिल हुई रालोसपा, उपेंद्र कुशवाहा ने कहा- NDA में मुझे अपमानित किया जाता था

जेटली से मुलाकात के बाद हुआ फैसला  

2019 लोकसभा चुनाव में सीटों के बटवारे को लेकर लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग पासवान ने वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की इस मुलाकात के बाद चिराग ने कहा कि लोजपा NDA का पार्ट बनी रहेगी. हमारी बात सही दिशा में बढ़ रही है । बीजेपी और जदयू ने पहले ही क्लियर कर दिया था कि वो बराबर की सीटों पर चुनाव लड़ेगी लेकिन पेंच रामविलास पासवान और उपेंद्र कुशवाहा के बीच फंसा हुआ था । उपेंद्र कुशवाहा ने अब महागठबंधन के दामन थाम लिया है इस लिए कुशवाहा की सीट भी अब रामविलास के खाते में आ गई है ।

चिराग का बीजेपी पर हमला, कहा- कांग्रेस ने किसानों का मुद्दा उठाया और हम मंदिरों में ही फसे रह गये

मंगलवार को चिराग पासवान ने एक ट्वीट किया था जिसमे लिखा था कि अभी राजग एक नाजुक दौर से गुजर रही है ऐसे समय में बीजेपी को अपने सहयोगी पार्टियों का ख्याल रखते हुए चल रहे तनाव को जल्द से जल्द खत्म करना चाहिए । दूसरे ट्वीट में चिराग पासवान ने लिखा था कि हमारी मुलाकात बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं से लगातार हो रही है लेकिन सीटों की बटवारे को लेकर अब तक रास्ता साफ नहीं हो पाया है अगर समय रहते इस मुद्दे पर बात नहीं बनी तो बड़ा नुकसान हो सकता है ।

558 total views, 2 views today

Facebook Comments

Leave a Reply