योगी का ऑपरेशन क्लीन, यूपी में ‘हिस्ट्री’ हो जाएंग ’!एनकाउंटर.|
जुर्म राजनीति

योगी का ऑपरेशन क्लीन, यूपी में ‘हिस्ट्री’ हो जाएंगे ‘हिस्ट्रीशीटर’!

योगी आदित्यनाथ ने जैसे हीं उत्तर प्रदेश में सत्ता की कमान संभाली, अपराध को काबू करने के लिए नई रणनीति ज़मीं पर उतार दी, एलान हो गया की अपराधियों को उन्हीं की भाषा में जवाब दिया जाएगा...उसी दिन से शुरू हुआ क्लीन यूपीऑपरेशन  से अपराधियों को साफ कर रहा है, उत्तर प्रदेश की धरती को योगी सरकार ने अपराधियों का कब्रगाह बना दिया है ...यूपी पुलिस ने तय कर लिया है कि बदमाश अगर अपराध का रास्ता नहीं छोड़ेंगे तो उनका सामना पुलिस की गोलियों से होना तय है, यूपी पुलिस ने पिछले दो दिनों में कई जिलों में एनकाउंटर कर अपने इरादे फिर से जाहिर कर दिए हैं.

अगर ऐसे ही चलता रहा तो वह दिन दूर नहीं जब उत्तर प्रदेश में हिस्ट्रीशीटर हिस्ट्री बन जाएंगे. उत्तर प्रदेश पुलिस लगातार अपने मकसद को पूरा करने में जुटी हुई है. योगी के सत्ता संभालने के बाद से शुरू हुए इस मिशन को पुलिस अंजाम पर ले जाने लगी है, बदमाशों और अपराधियों के खिलाफ पुलिस शुरुआत से अब तक सुपर एक्शन मोड में हैं, और लगातार ताबड़तोड़ एनकाउंटर कर अपराधियों की नस्ल को मिटाने में लगी है.

गोली का जवाब गोली से देंगे

बदमाशों और अपराधियों के गढ़ उत्तर प्रदेश का सिंहासन संभालते वक्त योगी की ये वो चुनौती थी, जिसने बदमाशों को झुकने पर मजबूर कर दिया ...मिशनएनकाउंटर  की शुरुआत इन्ही तेवरों के साथ हुई और समय के साथ तेवर और घातक होते गए.. एनकाउंटर की दहशत से बदमाश अब भी थर-थर कांपते दिखाई देते हैं. उनके जान के ऐसे लाले पड़े हैं कि जान बचाने के लिए जो जेल के अंदर हैं वो बाहर आना नहीं चाहता और जो जेल से बाहर है' उन्होंने जुर्म की दुनिया से तौबा कर ली....कभी यूपी को स्वर्ग समझने वाले अपराधी एनकाउंटर के खौफ से कांपते रहे है.

आज भी यूपी के तमाम शहरों में अपराधियों के दिलों में ऐसी दहशत है कि उन्हें डर सता रहा है, कि ना जाने कब, पुलिस का उनसे सामना हो जाए.एनकाउंटर के इस खौफ का नतीजा हीं है कि बदमाशों ने जुर्म की दुनिया छोड़ने का फैसला कर लिया है.कभी बंदूक से दहशत के खेल खेलने वाले अपराधी आज खुद दहशत में दिखाई देते हैं.गोलियों पर बदमाशों का नाम लिखकर पुलिस बाहर निकलती है जो जहां टकराया सीधा एनकाउंटर कर दिया. .विपक्ष के सवालों के बीच, तमाम आरोपों से लड़ते हुए मिशन एनकाउंटर लगातार जारी रहने की उम्मीद है.

खौफ में दिखते हैं दहशतगर्द

कभी अपने पेशे से लोगों के दिलों में दहशत पैदा करने वाले ये लोग खुद ही खौफ में दिखाई दे रहे हैं क्योंकि अपराध के रास्ते पर चलने वालों को सीएम योगी का संदेश समझ आ गया है , यूपी पुलिस जिस मोड में रही है इन्हें डर है कहीं इनकी भी ज़िंदगी की ज़मानत ज़ब्त ना हो जाए. यह वही यूपी पुलिस है जो अपराध होने के बाद मौका-ए-वारदात पर पहुंचती थी. व्ही पुलिस अपराधियों से दो कदम आगे चलकर उनको चुन चुनकर ठोकती रही है. हालाँकि योगी सरकार में पुलिस ने जो एनकाउंटर किए,इनमे से कई सवालों के घेरे में रहे है , कभी यूपी पुलिस पर बेगुनाहों को मारने का आरोप लगा, तो कभी प्रमोशन पाने के लिए एनकाउंटर का दाग.

योगी सरकार के पहले एक साल में औसतन हर हफ्ते 25 एनकाउंटर हुए.. यह हकीकत है की योगी सरकार के अबतक के शासनकाल में अपराधियों की शामत आ गयी है. लेकिन हालिया दिनों में कानून व्यवस्था की स्थिति खराब हुई है. यूपी पुलिस के सामने अपने ताकतवर मिशन को लगातार जारी रखने की चुनौती है तभी यूपी में अपराध का पूरी तरह सफाया हो पाएगा

353 total views, 10 views today

Facebook Comments

Leave a Reply