रामजतन का नीतीश कुमार पर तीखा वार, कहा- “नीतीश को मैंने बनाया मुख्यमंत्री”


बिहार विधानसभा चुनाव में रोज़ कुछ ना कुछ मसाला देखने को मिल रहा है। अब ताज़ा ख़बर के अनुसार जहानाबाद से संभावित उम्मीदवार रामजतन सिन्हा को टिकट न मिलने का इतना रोष है कि इन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को धोखेबाज और मतलबी तक करार दे दिया है।

विस्तार में आपको बता दें कि रामजतन सिन्हा ने पिछले साल फरवरी में जडीयू में शामिल हुए थे और सोमवार को टिकट ना मिलने पर उन्होंने यह कहते हुए इस्तीफ़ा दे दिया कि पार्टी में सभी उन्हें नजरअंदाज करते हैं।

उन्होंने मंगलवार को एक बयान में कहा कि नीतीश कुमार की विदाई की बेला आ गई है। नीतीश ने मुझे धोखा दिया है और यदि मैंने एक चिट्ठी सार्वजनिक किया तो नीतीश कही के नहीं रहेंगे। बिहार की राजनीति में तूफान आ जाएगा। वह चुनावी मैदान छोड़ भूमिगत हो जाएंगे लेकिन राजनीतिक मर्यादा के कारण नहीं कर रहा हूँ ।


सिन्हा आगे कहते हैं ” वर्ष 2000 में नीतीश को मैंने ही सीएम बनवाया था। रामविलास पासवान ने इसकी पहल की थी। सिन्हा ने कहा कि मैं कोई डिंग नहीं हांक रहा हूं। तत्कालीन राज्यपाल श्री पांडेय ने स्टैंड लिया था कि जब तक बहुमत नहीं आएगा। वह किसी दल के नेता को सीएम नहीं बनवाएंगे। नीतीश कुमार के कहने पर पीके शाही और ललन सिंह मेरे घर आए।

रामविलास पासवान और हमने समर्थन देने का वादा किया। मैंने लिखित दिया की नीतीश को समर्थन करेंगे। मैं सदाकत आश्रम में भूख हड़ताल पर बैठ गया और कहा कि लालू प्रसाद की पार्टी को हमारी पार्टी समर्थन नहीं करेगी। जिसके बाद नीतीश कुमार ने कॉल किया की आप मुझे सीएम तो बना दिए आप भूख हड़ताल तोड़िए।
अब किसने किसे मुख्यमंत्री बनाया या वो कौन सी चिठ्ठी है जो राजनैतिक भूचाल को अपने अंदर समेटे हुए रखी है ये तो वक़्त बताएगा अभी के लिए नीतीश कुमार का या उनकी सरकार का इस मामले में अभी कोई बयान सामने नहीं आया है।

राम जतन सिन्हा ने छोड़ा नीतीश का साथ, लगाया आरोप

Bihar Election: चुनाव से पहले पप्पू यादव को झटका, टूटा गठबंधन

याहू यूज़र्स के लिए बुरी ख़बर, बंद होगी कंपनी

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply