खेल

लगातार तीन उलटफेर से चैंपियंस ट्रॉफी हुई रोमांचक, न्यूजीलैंड बाहर

चैंपियंस ट्रॉफी  2017 के ग्रुप वाले मैच अब अपने अंतिम चरण में है| लेकिन सेमीफाइनल में पहुँचने वाली टीमों की स्थिति अब भी पूरी तरह से साफ नहीं हो पाई है| मेजबान इंग्लैंड सेमीफाइनल का टिकट कटा चुकी है, वहीं न्यूजीलैंड की टीम अपने घर के लिए रवाना भी हो गई है| इतने छोटे से टूर्नामेंट के  इस तरह के प्रारूप में हरेक मैच का महत्व बढ़ जाता है|

ऐसी स्थिति में अगर लगभग सभी मैच बारिश से प्रभावित हो तो आयोजन के जगह पर सवाल उठने शुरू हो जाते हैं| ट्रॉफी की प्रबल दावेदार ऑस्ट्रेलिया के दो ग्रुप मैच बारिश के कारण  रद्द हो गए,  और अब हालात ऐसे हैं कि आज टीम को इंग्लैंड के खिलाफ हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी|

अपने पिछले मैच में कंगारू टीम बांग्लादेश के खिलाफ न केवल जीत के दरवाजे पर खड़ी थी, बल्कि जबर्दस्त रनरेट के साथ जीतने जा रही थी| बांग्लादेश को 182 पर रोकने के बाद एक विकेट पर 16 ओवर में 83 रन बनाकर कंगारू जीत की दहलीज पर थे| ठीक उसी समय बारिश आयी, फिर मैच रद्द करना पड़ा|

अगर चार और ओवरों का खेल हो जाता तो डकवर्थ लुईस से जीत मिल जाती, मगर ऐसा कुछ नहीं हुआ| अगर ऑस्ट्रेलिया आज का मैच हार जाती है, तो निश्चित रूप से टीम प्रबंधन और क्रिकेट बोर्ड खराब परिस्थितियों एवं आयोजन स्थल पर हीं सवाल खड़े करेंगे|

बहरहाल पिछले तीन दिनों में तीन उलटफेर देखने को मिले हैं और तीनों बार भारतीय उपमहाद्वीप की टीमें हीं थी| इन अप्रत्याशित परिणामों के कारण हीं एकदम साफ दिख रही स्थिति एकाएक रोमांच और ऊहापोह के भँवरजाल में फँस गयी है| ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार से बचने वाले बांग्ला टाइगर्स नें अपने अंतिम मैच में न्यूजीलैंड की मजबूत टीम को हराकर उलटफेर तो किया हीं, साथ हीं सेमीफाइनल में पहुँचने की उम्मीदों को भी जिंदा रखा|

यह भी पढ़ें :कभी कुंबले के दीवाने रहे विराट को अब पसंद नहीं उनका साथ!

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच आज होनेवाला मैच ग्रुप ए का आखिरी एवं डिसाइडर मुकाबला होगा| इस मैच में हार का इंग्लैंड पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा,  लेकिन ऑस्ट्रेलिया की एक हार उसे स्वदेश का रास्ता दिखा देगी और बांग्लादेशी टीम अंतिम चार में पहुँच जायेगी|

वहीं  ग्रुप बी में पाकिस्तान के खिलाफ मैच जीतकर अंतिम चार में पहुँचने को आश्वस्त दिख रही भारतीय टीम को श्रीलंका नें हराकर कड़ी चेतावनी दे डाली| वहीं इसी ग्रुप में वर्ल्ड नंबर वन साउथ अफ्रीका नें पहले मैच में श्रीलंका को पटखनी दी लेकिन पाकिस्तान के हाथों उलटफेर का शिकार होकर बाहर होने के कगार पर आ गई है|

आसान सा ग्रुप समझा जा रहा ग्रुप बी अब ग्रुप ऑफ डेथ बन चुका है| 11 जून को ओवल के मैदान पर जब भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें भिड़ेंगी तो यह वर्चुअल क्वार्टर फाइनल होगा जहाँ से इनमें से कोई एक हीं अंतिम चार का टिकट कटा पायेगा, बशर्ते की बारिश के कारण मैच रद्द न हो|

यही हाल 12 जून को उसी मैदान पर पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच मैच का होगा, जहाँ से एक हार घर का रास्ता दिखा देगी| अभी चारो टीमें दो दो मैच खेलकर दो अंक पर है, जिसमें भारत का रनरेट बेहतर है| अगर इन मैचों में बारिश बाधा नहीं डालती है, तो रनरेट के मायने हीं खत्म हो जायेगा|

आजकल इंग्लैंड में बारिश का मौसम है, ऐसे में बारिश का होना स्वभाविक है, लेकिन कुछ टीमें तो उम्मीद कर रही होंगी कि कम से कम मैच के दौरान बरसात न हो|  हालांकि इंग्लिश ग्राउंड का ड्रेनेज सिस्टम बहुत हीं उत्तम है , लेकिन वो भी तभी काम करेगा न, जब बारिश रूकेगी| बहरहाल, आईसीसी को टूर्नामेंट का आयोजन करने से पहले वहाँ के परिस्थितियों को देखने और समझने की जरूरत है, अन्यथा सवाल तो उठते हीं रहेंगे| ऐसे भी इस टूर्नामेंट को बंद करने पर विचार किया जा रहा था , और फिर इस तरह की लापरवाही ने कम से कम क्रिकेट का तो भला नहीं हीं किया है|

Facebook Comments

Leave a Reply