pak vs afg match world cup 2019 | पाकिस्तान vs अफगानिस्तान
खेल

पाकिस्तान के रंग में भंग डालने उतरेगा पड़ोसी अफगानिस्तान

16 जून को मैनचेस्टर में भारत से मिली हार के बाद पूरा पाकिस्तान सदमे में था। पाकिस्तानी फैंस के मन में इतना गुस्सा था कि एयरपोर्ट पर बेटे के साथ जा रहे कप्तान सरफराज अहमद पर भद्दी टिप्पणी की गई। पाकिस्तानी टीम के खिलाड़ी शर्म के मारे होटल से नहीं निकल पा रहे थे। सरफराज और उनकी टीम के लिए वह समय खराब था। समय बदला एक सप्ताह बाद, जब दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड से जीत के बाद वही फैंस खिलाड़ियों से हाथ मिला रहे थे। अब टीम लय में लौट गई है।

हालांकि अब उसे विश्वकप के सेमीफाइनल में पहुँचने के लिए बाकी बचे दोनो मैच जीतना जरूरी है। लेकिन उसकी राह रोकने के लिए सामने खड़ी है पड़ोसी अफगानिस्तान की टीम। आज जब दोनों टीम लीड्स के मैदान में एक दूसरे का सामना करेगी तो अफगानिस्तान के पास खोने के लिए कुछ नहीं होगा। अब तक खेले अपने सात मैच में एक भी मैच नहीं जीतने वाले अफगान आज पाकिस्तान का खेल बिगाड़ने की तैयारी कर चुके हैं। पाकिस्तान का डरना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि अफगानिस्तान ने वार्मअप मैच में उसे पटखनी देकर सबको चौंका दिया था।

पाकिस्तान की टीम एकाएक बेहद संतुलित नजर आने लगी है। बाबर आजम फिर से कर्णधार बनकर 6 पारियों में 333 रन बना चुके हैं। शोएब मलिक की जगह आए हारिस सोहेल नें दो मैचों में जबर्दस्त बल्लेबाजी की है। मोहम्मद हफीज, फखर जमान और इमाम उल हक लगातार सहयोग कर रहे हैं। लोअर मिडिल ऑर्डर में एक पावर हिटर की कमी दिख रही है लेकिन आसिफ़ अली नें अपने चांस को भुनाया भी तो नहीं है। पाकिस्तान की ताकत तेज गेंदबाजी अपने लय में लौट चुकी है। पिछले मैच में युवा शाहिन आफरीदी ने न्यूजीलैंड की कमर तोड़ दी थी। आमिर और वहाब के साथ लेग स्पिनर शादाब खान भी लगातार अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं।

अफगानिस्तान की टीम के अंदरूनी विवादों का उसके प्रदर्शन पर साफ असर पड़ा है। असगर अफगान की जगह गुलबदीन नईब को कप्तान बनाने की कई सीनियर प्लेयरों ने आलोचना की थी। विस्फोटक ओपनर अहमद शाहजाद के चोटिल होकर स्वदेश लौटने के बाद अफगान टीम सही संयोजन नहीं तलाश पायी है। गेंदबाजी में टीम के रीढ़ की हड्डी स्पिनर बुरी तरह पीटे हैं। पहले पाँच मैच में स्पिनर सिर्फ सात विकेट ले पाए। अगले दो मैचों में जैसे हीं सूखी पिच मिली, नौ विकेट झटक लिए। राशिद लय में लौट रहे हैं लेकिन अब बहुत देर हो चुकी है। इंडिया के खिलाफ लगभग अफगानिस्तान नें उलटफेर कर हीं दिया था लेकिन अनुभवहीनता के कारण टीम लुढ़क गई। लेकिन यह मैच उसके लिए बूस्टर का काम करेगा।

पिच- लीड्स के विकेट पर पिछले एक महीने के अंदर इंग्लैंड नें 351 का स्कोर भी बनाया था, वहीं श्रीलंका के खिलाफ 232 चेज नहीं कर पाया। विकेट सूखी लग रही है। ऐसे में स्पिनर्स के पास अपनी फिरकी पर नचाने का अच्छा मौका है।

इस मैच पर श्रीलंका, बांग्लादेश और इंग्लैंड की पैनी नजर रहेगी। और सबके सब पाकिस्तान के हारने की दुआ कर रहे होंगे। क्योंकि पाकिस्तान की आज की हार उनके सेमीफाइनल के दरवाजे खोल देंगे।

अगर गांगुली नही देते ये कुर्बानी तो धोनी नही बन पाते एक महान खिलाड़ी

गांगूली का एक फैसला और सहवाग विस्फोटक बल्लेबाजों के लिस्ट में शुमार हो गए

धोनी के बारे में 7 ऐसी बातें जिसे आप शायद ही जानते हों !

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़े

Facebook Comments
Ankush M Thakur
Alrounder, A pure Indian, Young Journalist, Sports lover, Sports and political commentator
http://www.thenationfirst.com

Leave a Reply