post match analysis pak vs afg and aus vs nz world cup 2019
खेल

मैच रिपोर्ट: अफगानिस्तान नें दिल जीता पाक नें मैच, कंगारुओं के सामने कीवी हुए बेदम

विश्वकप 2019 में शनिवार के दिन दो अलग-अलग महादेशों के दो पड़ोसी देशों के बीच मुकाबला था. एक तरफ एशिया से पाकिस्तान-अफगानिस्तान आमने-सामने थे तो वहीं दूसरे मैच में ओशिनिया से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड का मुकाबला था. भले हीं अफगानिस्तान एक भी मैच नहीं जीत पाया हो लेकिन जिस तरह का खेल उसने दिखाया है, वह क्रिकेट प्रेमियों के दिल पर राज कर रहा है, अनुभवहीनता टीम के आड़े आ रही है. पहले श्रीलंका, फिर भारत और कल पाकिस्तान के खिलाफ टीम ने दिल तो जीता लेकिन मैच में हार हीं मिली. वहीं दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया नें न्यूजीलैंड को हराकर अपनी स्थिति और मजबूत की.

पहला मैच:- पाकिस्तान बनाम अफगानिस्तान

पहले बल्लेबाजी करते हुए अफगानिस्तान के बल्लेबाजों नें गलत समय पर गलत शॉट खेलकर अपने विकेट गंवाए। रहमत शाह(35), कप्तान गुलबदीन नईब(15), असगर अफगान(42), इकराम अली खिल(24), मोहम्मद नबी(16) और नजीबुल्लाह (42) अच्छी शुरुआत के बाद भी बड़े स्कोर नहीं कर पाए। शाहिन आफरीदी ने चार विकेट लिए। 228 के स्कोर का पीछा करने उतरी पाकिस्तान नें हारने की पूरी कोशिश की. उसके लिए जिम्मेदार थी अफगानिस्तान का स्पिन तिकड़ी. मोहम्मद नबी, मुजीब उर रहमान और राशिद खान नें इस बेहद आसान लक्ष्य को पाकिस्तान के लिए मुश्किल बना दिया. फखर जमान को जल्दी खोने के बाद इमाम (36), बाबर आजम (45), हफीज (19), हारिस(27) और सरफराज (18) अपने स्टार्ट को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर पाए. इस मैच में एक भी 50+ स्कोर नहीं हुआ.

5 ओवर में जब पाकिस्तान को 46 रन चाहिए थे और सारे परिपक्व बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे. पाँच में से तीन ओवर राशिद और मुजीब के थे. लेकिन इसी समय कप्तान गुलबदीन नें अच्छी बॉलिंग कर रहे शेनवारी की जगह अपनें आप को बॉलिंग पर लगाया. उस ओवर में इमाद‌ वसीम और शादाब नें 18 रन कूटकर मैच अपने पक्ष में कर लिया. फील्डिंग काफी घटिया रही. असगर अफगान और शेनवारी नें अहम मौके पर कैच टपकाए. कई रन आउट मिस हुई. अंतिम ओवर में कप्तान नईब 6 रन नही बचा पाए और अफगानिस्तान मैच जीतते जीतते रह गया.

दूसरा मैच:- ऑस्ट्रेलिया बनाम न्यूजीलैंड

इस मैच के रोमांचक होने की संभावना थी. न्यूजीलैंड के बॉलरों नें ऑस्ट्रेलिया के 92 रन पर 5 विकेट चटका दिए. लेकिन तभी ख्वाजा(88) और एलेक्स केरी(71) के बीच हुई 107 रनों की साझेदारी नें कंगारुओं की वापसी कराई. अंत में ट्रेंट बोल्ट नें अंतिम ओवर की लगातार गेंदों पर ख्वाजा, स्टार्क और बेहरनडॉर्फ को आउट कर विश्वकप में हैट्रिक लेने वाले पहले कीवी बॉलर बने. तीनो की तीनों गेंदे स्टंप पर सटीक यॉर्कर थी जिसमें दो बोल्ड और एक एलबीडब्ल्यू मिला. ऑस्ट्रेलिया की पारी सिमटी 243 रनों पर.

जवाब में न्यूजीलैंड नें सधी शुरुआत की. मुनरो की जगह उतरे हेनरी निकोलस ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और बेहरनडॉर्फ के शिकार बने. विलियमसन (40) और रॉस टेलर (30) हीं कंगारू गेंदबाजों के सामने कुछ प्रतिरोध कर पाए. इन दोनों के आउट होते हीं कीवी टीम की व्हाट लग गई. अंतिम सात विकेट महज 39 रन के अंदर गिर गए. 157 पर पूरी टीम समेट ली गई. पूरे मैच में कप्तान फिंच नें बेहद आक्रामक कप्तानी की. पहले 20 में से 9 ओवर बेहरनडॉर्फ से फेंकवाए गए. कुल 8 गेंदबाजों का इस्तेमाल कर बॉलिंग की गहराई भी टेस्ट कर ली. इस जीत से ऑस्ट्रेलिया का टॉप 2 में रहना तय हो गया है. न्यूजीलैंड की टीम अंतिम चार में लगभग पहुँच चुकी है लेकिन बाकी मैचों के के परिणाम से तय होगा कि उसे सेमीफाइनल में किससे भिड़ना है.

विश्वकप 2019: भारतीय बल्लेबाजों के इस रवैये से खुश नहीं हैं वीरेन्द्र सहवाग

विश्वकप के इतिहास में सौरव गांगुली का यह रिकॉर्ड आज तक नहीं तोड़ पाया कोई कप्तान

गांगुली की एक गलती और हाथ में आते-आते रह गया 2003 का विश्वकप

अगर गांगुली नही देते ये कुर्बानी तो धोनी नही बन पाते एक महान खिलाड़ी

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments
Ankush M Thakur
Alrounder, A pure Indian, Young Journalist, Sports lover, Sports and political commentator
http://www.thenationfirst.com

Leave a Reply