खेल

युवराज और रैना के बिना ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी टीम इंडिया

ज ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरिज के पहले तीन मैचों के लिए भारतीय टीम की घोषणा कर दी गई|उम्मीद के मुताबिक चयनकर्ताओं नें श्रीलंका का विजयी दौरा करने वाली टीम में ज्यादा फेरबदल नहीं किया है| रोटेशन नीति के अनुसार टीम में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और उमेश यादव को जगह मिली है, जबकि युवा पेसर शार्दुल ठाकुर को इंडिया ए के साथ भेज दिया गया है| टीम के दो सबसे अनुभवी स्पिनर आर आश्विन और रविंद्र जडेजा को एक बार फिर आराम दिया गया है|

अश्विन काउंटी क्रिकेट में वारविकशायर के साथ चार मैचों का अनुबंध पूरा कर रहे हैं,वहीं जडेजा श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरिज के बाद आराम कर रहे हैं। टीम इंडिया के चयन से स्पष्ट हो गया है कि अनुभवी युवराज सिंह और सुरेश रैना सेलेक्टर्स के रडार से लगभग गायब हो चुके हैं| हालांकि चयनकर्ता इतना साहस नहीं जुटा पा रहे हैं जिससे वे उन दोनों को कह सकें कि 'उन्हें टीम से बाहर किया गया है'| युवी जैसे खिलाड़ी को यह कहकर कि उन्हें आराम दिया गया है,धोखे में रखा जा रहा है| टीम इंडिया की लगभग 15 वर्षों तक सेवा देनें के बाद युवराज सिंह जब करियर के आखिरी दौर में है,उनके साथ इस तरह का बर्ताव अशोभनीय है|

कहीं न कहीं इस मामले में चयन समिति की अनुभवहीनता स्पष्ट दिख रही है|श्रीलंका जैसी कमजोर टीम के खिलाफ कई मौकों पर टीम का मध्यक्रम जिस तरह से चरमराया,ऐसी स्थिति में हीं युवराज और रैना की अहमियत मालूम पड़ती है| वो तो मिस्टर डिपेंडेबल महेंद्र सिंह धौनी नें आकर अपना क्लास दिखाया वरना लेने के देनें पड़ जाते|विराट कोहली और धौनी के बीच मध्यक्रम में दो जगह बचती है,उसमें अभी लोकेश राहुल,केदार जाधव,और मनीष पांडेय को आजमाया जा रहा है|

इसे भी देखें: स्मृति, सुषमा और एकता: महिला क्रिकेट की नई सनसनी

लेकिन इन सबके बावजूद उन दो जगहों में से एक अभी युवराज या रैना की माँग कर रहा है| इसकी जरूरत इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि हर बार आपको कोहली और धौनी मैच नहीं जिता सकते| लोकेश राहुल को मध्यक्रम में खिलानें का हर प्रयोग विफल हो चुका है,वहीं केदार जाधव एक बैट्समैन से ज्यादा पार्ट टाइमर 'बैटर' और 'ब्रेकथ्रू' बॉलर की जिम्मेदारी ज्यादा निभा रहे हैं|मनीष पांडेय नें टीम में मिले हरेक मौके को दोनों हाथों से लपका है,ऐसे में उन्हें कम आँकना खतरों से खाली नहीं है। शिखर धवन और रोहित शर्मा के रूप में सलामी जोड़ी एकदम परफेक्ट नजर आ रही है,वहीं रहाणे तीसरे ओपनर के रूप जगह पकड़े हुए हैं|

स्पिन विभाग में कुलदीप यादव का चाइनामैन, युजवेंद्र चहल का लेग स्पिन और अक्षर पटेल का लेफ्ट आर्म स्पिन किसी भी टीम को छकानें के लिए काफी है| हालांकि श्रीलंका दौरे पर ज्यादा प्रभावी साबित नहीं हुए लेकिन ध्यान देनें वाली बात यह है कि एशियाई टीमों के मुकाबले बाहरी टीमों को स्पिन खेलनें में ज्यादा दिक्कत होती है| इतना तय है कि अश्विन और जडेजा की कमी टीम को नहीं खलने जा रही है| हार्दिक पांड्या के रूप में टीम के पास एक परफेक्ट ऑलराउंडर है| तेज गेंदबाजी में भुवनेश्वर,बुमराह,उमेश और शमी के यॉर्कर,स्विंग,स्लोअर का इस्तेमाल रोटेशन के तहत होना तय है,जिसमें किसी दो को प्लेइंग इलेवन में जगह मिलेगी|

यह सीरिज भारतीय सरजमीं पर खेली जा रही है,इसलिए टीम इंडिया फेवरेट है|17 सितंबर को सीरिज का पहला मैच खेला जाएगा। ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत पहुँच चुकी है और 12 सितंबर को अभ्यास मैच खेलेगी। "The Nation First" सीरिज से जुड़ी हर खबर आपतक पहुँचाएगा।

1,399 total views, 9 views today

Facebook Comments

One thought on “युवराज और रैना के बिना ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी टीम इंडिया”

Leave a Reply