yuvraj singh |युवराज सिंह
खेल

युवराज सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा, लंबे समय से टीम से बाहर थे

भारतीय क्रिकेट को एक नया आयाम, एक नई मुकाम तक पहुँचाने में जिस क्रिकेटर का अतुल्निय योगदान है, जिसने 2007 और 2011 के विश्व कप में अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर भारत को विश्व विजय बनाया था, उसने आज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है.

जी हाँ... युवराज सिंह नें प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सन्यास लेने का ऐलान किया. युवराज काफी लंबे समय से अपने खराब प्रदर्शन के चलते भारतीय टीम से बाहर चल रहे थे. सिक्सर किंग के नाम से मशहूर युवराज सिंह ने कैंसर से जंग जीतने के बाद क्रिकेट के मैदान में वापसी की थी, लेकिन कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सके.

युवी ने संन्यास का ऐलान करते हुए कहा कि मैंने क्रिकेट में 25 साल और अंतरराष्ट्रीय क्रिेकेट में 19 साल के उतार-चढ़ाव के बाद आगे बढ़ने का फैसला किया है. उन्होंने ये भी कहा कि इस खेल ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है कि कैसे लड़ना है, कैसे गिरना है, फिर से उठना है और आगे बढ़ना है.

संन्यास लेने पर भावुक होकर युवराज ने कहा कि मैंने कभी हार नहीं मानी.साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि 2011 का वर्ल्ड कप जीतना मेरे लिए सपने जैसा था. लेकिन, मैंने अपने पिता का सपना पूरा किया. युवराज ने 304 वनडे खेले है जिसमे 8701 रन बनाए है, और 58 टी20 मैच भी खेले है जिसमें उन्होंने 1177 रन बनाए. उन्होंने 2007 के टी20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के खिलाफ एक ओवर में छह छक्के लगाये थे.

2011 विश्व कप जीतने में अपना अहम योगदान दिया

युवी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मेरे लिए सबसे बड़ी चीज 2011 का वर्ल्ड कप था. आपको बता दें कि उस टूर्नामेंट में उन्होंने चार अर्धशतक और एक शतक लगाया था, इस दौरान उन्होंने 15 विकेट भी झटके थे. उनके इस प्रदर्शन की बदौलत वे मैन ऑफ द टूर्नामेंट बने थे.

कैंसर से जंग जीत मैदान में वापस लौटे युवी

युवी को वर्ल्ड कप जीतने के बाद बुरी खबर मिली. उन्हें पता चला कि उनके दोनों फेफड़ों के बीच में ट्यूमर है, उसके बाद उन्होंने अपनी दृढ इक्षाशक्ति और बहादुरी से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को हराया. वे पूरी तरह से हेल्दी होकर एक बार फिर क्रिकेट के मैदान में उतरे, लेकिन वे पहले जैसी फॉर्म नहीं दिखा सके और उन्होंने अंततः क्रिकेट को अलविदा करने का फैसला लिया.

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply