rising of jansangh and hindutwa
इतिहास के पन्नों से राजनीति

जब जनसंघ ने कांग्रेस से हिंदूवादी पार्टी होने का तमगा छीन लिया था

कांग्रेस के इतिहास को अगर खंगाला जाए तो पता चलता है की कोंग्रेस अपने जन्म  से हिन्दू समर्थक होने का तमगा  ले कर  घूमती  रही थी  क्योंकि हिन्दू समर्थक होने के कारण ही इस पार्टी ने बहुत कुछ खो दिया, मोहम्मद अली जिन्ना जैसा नेता इस पार्टी का धुरविरोधी बन गया जो कभी कदम से […]

इतिहास के पन्नों से

जब नेहरू ने ठुकरा दिया था गाँधी का ये प्रस्ताव

जब भारत अपनी आजादी की लड़ाई लड़ रहा था तब उसने कई ऐसे वीर योद्धा और सकारात्मक ऊर्जा से भरे नेताओं को खोया जिन्होंने देश की आजादी के लिए खुद को कुर्बान कर दिया लेकिन जब जिन्ना ने भारत विभाजन की मांग कर अलग पाकिस्तान बनाने की मांग पहली बार किया तो मानो ऐसा लग […]