तुम भी तन्हा मैं भी तन्हा

शेष नहीं अब ज़िंदगी मे कुछ भी तुम भी तन्हा मैं भी तन्हा हां मिज़ाज थोड़ा तल्ख है, आज थोड़ी

Read more