रांची का रिम्स बना महागठबंधन की रणनीति का केंद्र, लालू से मिलने पहुंचे तेजस्वी और कुशवाहा
राजनीति

रांची का रिम्स बना राजनीतिक केंद्र, 2019 में महागठबंधन की इस रणनीति के सामने बीजेपी होगी चारो खाने चित्त

बिहार में 2019 चुनाव को लेकर उठा पटक शुरु हो गई है और इस उठा पटक में महागठबंधन बीजेपी को जोर से पटकने की तैयारी में जुटा हुआ । इन सब के बीच राँची का रिम्स हॉस्पिटल महागठबंधन की रणनीति का केंद्र बन गया है तो लालू प्रसाद यादव उनके रणनीतिकार । महागठबंधन में सीट बंटवारे के पेंच को सुलझाने के लिए लालू के छोटे बेटे तेजस्वी यादव और रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा लालू यादव से मिलने रिम्स हॉस्पिटल पहुंचे । इस मीटिंग के बाद शायद महागठबंधन में सीटों को लेकर फंसे पेंच अब खुल जाए ।

उसके बाद तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर हमला बोला है उन्होंने कहा कि देश मे फिलहाल आपातकालीन जैसी हालात बना हुआ है । बीजेपी ने अपना कोई भी वादा पूरा नहीं किया है जिस कारण उनके सहयोगी दल उनसे नाराज चल रहे हैं । तेजस्वी से जब प्रधानमंत्री पद का दावेदार कौन होगा इसके बड़े में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अभी महागठबंधन के मात्र एक ही लक्ष्य है बीजेपी को उखाड़ फेंकना ऐसे में प्रधानमंत्री पद का दावेदारी कोई पेश नहीं कर रहा है हम बीजेपी को उखाड़ कर देश मे शांति का माहौल बनाना चाहते हैं । आत्महत्या कर रहे किसानों को इंसाफ दिलाना चाहते हैं । बेरोजगारी से जूझ रहे देश के युवाओं के लिए रोजगार पैदा करने पर महागठबंधन जोर देगी ।

महागठबंधन में शामिल हुई रालोसपा, उपेंद्र कुशवाहा ने कहा- NDA में मुझे अपमानित किया जाता था

बीजेपी पर बोला हमला

साथ ही तेजस्वी ने बीजेपी और जदयू के बीच हुए सीट बंटवारे पर भी बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी की हालत देश में खस्ता है इसका ताजा उदाहरण हैं बिहार । जहां बीजेपी का फिलहाल 22 सीटों पर कब्जा है इसके बावजूद इस बार बीजेपी महज 17 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं । आगे उन्होंने कहा कि बीजेपी के हार के पीछे एक ही कारण है । प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह दोनों ही अहंकारी हैं । वो अपने सहयोगियों की इज्ज़त नहीं करते । आज उनके सहयोगियों में असंतोष का माहौल बना हुआ है ।

Facebook Comments
Rahul Tiwari
राहुल तिवारी 2 साल से पत्रकारिता कर रहे हैं. वो इंडिया न्यूज़ में भी काम कर चुके हैं.
http://www.thenationfirst.com

Leave a Reply