The Accidental Prime Minister: ‘मनमोहन सिंह’ दिलाएंगे अनुपम खेर को ऑस्कर!

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के राजनीतिक जीवन पर बनी फिल्म The Accidental Prime Minister के ट्रेलर लौन्चिंग के साथ ही शुरू हुआ विवाद धीरे-धीरे बढ़ता ही जा रहा है. इस फिल्म का कांग्रेस जबरदस्त विरोध कर रही है . कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीएल पूनिया ने इसे लोकसभा चुनाव से पहले अहम मुद्दों से ध्यान भटकाने का हथकंडा करार दिया है . साथ ही इसे कई राज्यों में बैन करने की भी बात हो रही है.

फिल्म पर मचे घमासान के बीच अभिनेता अनुपम खेर ने शुक्रवार को एक प्रेस कांफ्रेंस की और कहा कि सिनेमा के इतिहास में यह एक बहुत क्रांतिकारी फिल्म साबित होगी. अनुपम ने कहा कि ये फिल्म कहाँ रिलीज़ होगी कहाँ नहीं ये चर्चा करने के बजाय इस फिल्म को ऑस्कर के लिए भेजा जाना चाहिए. सेंसर बोर्ड फिल्म को पहले ही अनुमति दे चूका है ऐसे में कोई तीसरी ताकत फिल्म को रिलीज होने रोक नही सकता.

हिन्दू-मुस्लिम नही एक हिंदुस्तानी बन कर सोचियेगा, जो नसीरुद्दीन शाह ने कहा क्या वो सच नही है ?

अनुपम खेर ने कहा कि मैंने इस फिल्म में सिर्फ एक किरदार निभाया है . ये मेरी जिंदगी का सबसे अनोखा और चुनौतीपूर्ण था. मनमोहन सिंह की तरह नकल करने के लिए मैंने किताब पढ़ीं. मैंने अपने करियर की पहली फिल्म में ही मात्र 28 साल की उम्र में 65 साल के बुजुर्ग का किरदार निभाया था. मेरे 25 साल के करियर की यह सबसे कठिन फिल्म है. अनुपम ने दावा किया कि इस फिल्म में मनमोहन सिंह का किरदार लोगों को बहुत पसंद आएगा.

संजय बारू की किताब The Accidental Prime Minister पर आधारित है फिल्‍म

साथ ही अनुपम खेर ने कहा कि ‘ जितना ज़्यादा कांग्रेस “The Accidental Prime Minister” का विरोध करेगी , उतना ही ज़्यादा प्रचार फिल्म को हासिल होगा. पुस्तक वर्ष 2014 से बाज़ार में है, तब से अब तक तो कोई विरोध नहीं किया गया, फिल्म भी उसी पर आधारित है.’
बता दें कि ये फिल्म, संजय बारू की किताब ‘The Accidental Prime Minister’ पर आधारित है. यह फिल्‍म 11 जनवरी को सिनेमा घरों में रिलीज की जाएगी . संजय बारू मई 2004 से अगस्त 2008 तक पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार रह चुके हैं.

Facebook Comments

Praful Shandilya

praful shandilya is a journalist, columnist and founder of "The Nation First"

Leave a Reply