भारत के खिलाफ "एफ-16" का इस्तेमाल कर बुरा फंसा पाक, अमेरिका कर रहा है जांच
दुनिया

भारत के खिलाफ F-16 का इस्तेमाल कर बुरा फंसा पाकिस्तान, अमेरिका कर रहा है जांच

26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के तीन आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक किया था. जिसके जवाब में पाकिस्तान ने अगले ही दिन 27 फरवरी को भारतीय सैन्य ठिकानों पर हमला करने की कोशिश की थी. हालाकि वो इस में नाकाम रहे थे लेकिन भारत के खिलाफ इस हमले में इस्तेमाल किये गये विमान 'एफ-16' को लेकर वह बुरी तरह फस गये हैं .

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि अमेरिका इस मामले की जांच कर रहा है कि पाकिस्तान ने भारत पर हमले के लिए उसके 'एफ-16' विमान का इस्तेमाल किया है या नहीं! अमेरिका ने कहा कि 'F-16' के गलत इस्तेमाल पर वह तथ्य जुटा रहे हैं. फैसला तथ्यों के आधार पर ही लिया जाएगा.

आतंकवाद के खिलाफ इस्तेमाल के लिए दी गयी थी एफ-16

आपको बता दें की अमेरिका ने पाकिस्तान को 'एफ-16' विमान कुछ शर्तों के साथ दिया था. अमेरिका ने पाक को साफ-साफ़ हिदायत दी थी कि 'F-16' विमान का इस्तेमाल वह दूसरे देश पर हमले के लिए नहीं कर सकता है. आतंकवाद से लड़ाई और राजद्रोह की स्थिति में ही वह इसका इस्तेमाल कर सकता है.

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ले. कर्नल कोने फॉकनर ने कहा कि अगर पाक ने भारत पर हमले के लिए एफ-16 का इस्तेमाल किया है तो इसका मतलब उसने अमेरिका के साथ किए करार का उल्लंघन किया है. अगर कोई ऐसा करता है तो इसे अमेरिका गंभीरता से लेता है.

भारत ने पाक के झूठ को किया बेनकाब

आपको बता दें कि गुरुवार को भारतीय सेना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पाकिस्तान द्वारा भारतीय सीमा में एफ-16 विमान से हमला करने के सबूत पेश किए थे. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर ने कहा कि पाकिस्तान ने सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने के लिए एम्राम मिसाइल का इस्तेमाल किया, इसे केवल पाकिस्तान में मौजूद F-16 विमान ही दाग सकता है.

इससे पहले बुधवार को पाकिस्तान ने कहा था कि उसने भारत पर हमले के लिए एफ-16 विमान का इस्तेमाल नहीं किया है . जिसके बाद भारत ने एफ-16 के इस्तेमाल किये जाने का सबूत पेश कर पाकिस्तान के झूठ को बेनकाब कर दिया था.

Facebook Comments

Leave a Reply