मैं ट्वीटर तेरा छोड़ चला

मैं ट्वीटर तेरा छोड़ चला  जी हां आज सुबह-सुबह सोनू निगम ने सारे देश को ट्वीटर के माध्यम से यही बताया कि वो आज ट्वीटर छोड़ रहें हैं दरसअल 23 मई को गायक अभिजीत भट्टाचार्य के विवादित ट्वीटस के चलते ट्वीटर ने उनका एकाउंट सस्पेंड कर दिया था जिसके बाद आज उनके समर्थन में उनके साथी गायक सोनू निगम भी उतर आये ।
अभिजीत ने एक ट्वीट किया था कि कश्मीर में स्टोन पेलटर की जगह लेखक अरुंधति राय को जिप्सी पर बांधकर घुमाना चाहिए था जिसे ट्वीटर ने अपने नियम के खिलाफ माना और गायक अभिजीत पर कारवाई करते हुए उनका एकाउंट ससपेंड कर दिया।
लेकिन ये मामला बस इतना ही नहीं है दरअसल पाकिस्तानी मीडिया में ये खबर आई थी कि अरुंधति राय कुछ दिनों पहले कश्मीर गई थी वहां उन्होंने पत्थर फेंकने वाले कश्मीरी युवक को सैनिकों द्वारा जीप से बांधकर घुमाने वाले वाक़ये का विरोध किया था और पाकिस्तान का खुलकर समर्थन की थी जिसके बाद अभिजीत का ये विवादित ट्वीट आया ।

हालांकि अरुंधति राय ने इस मामले पर कहा कि यह सब झूठ है वो हाल-फिलहाल में कभी कश्मीर गई ही नहीं। अरुंधति राय के बारे में तो आप जानते ही होंगे कि ये वामपंथी विचारधारा से प्रेरित एक लेखक हैं जो हमेशा से इन चीजों के लिए विवादों में रहीं है।
खैर, मुद्दे पर आते हैं अभिजीत का ट्वीटर एकाउंट ससपेंड करना सोनू निगम को रास नही आया और इसीलिए वह ट्वीटर से तौबा कर उन्हें बाई-बाई कह दिया है आज सुबह सोनू ने लगातार 24 ट्वीट्स कर ये बता दिया कि ट्वीटर के इस रवैये से वह खासे नाराज है ।

सोनू के ट्वीट

सोनू ने ट्वीट में लिखा कि ‘क्या वाकई उन्होंने अभिजीत का अकाउंट सस्पेंड कर दिया? क्यों? ट्वीटर पर 90 फीसदी ट्विटर एकाउंट से इससे भी बदतर गाली-गलौच, धमकियों और कट्टरवाद के नारे लगते हैं ऐसी हालत में उन 90% एकाउंट्स को भी बंद कर देना चाहिए ।

अपने एक और ट्वीट में सोनू निगम लिखते हैं ‘ एक महिला गौतम गंभीर के तस्वीर को आर्मी जीप के सामने एंडोर्स कर सकती है लेकिन अगर वही परेश रावल किसी और के साथ करते है तो उनकी देश भर में क्रिटिसिज्म होती है ! ये कैसा संतुलन है सब वन साइडेड क्यों हो जाते हैं ? क्यों ट्वीटर सभी के लिए गुस्सा निकालने का एक प्लेटफ़ॉर्म बन गया है ?
सोनू ने साथ में यह भी लिखा कि हम सब इंसान बनना छोड़ एक हिन्दू, एक मुस्लिम, एक हिंदुस्तानी ओर एक पाकिस्तानी बनने की होड़ में हैं।।

यह भी पढ़ेः समाजिक कुरीतियों पर चोट है फ़िल्म ‘आत्मग्लानी’

Facebook Comments

Praful Shandilya

praful shandilya is a journalist, columnist and founder of "The Nation First"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *