अयोध्या में बन रही मस्जिद पर ओवैसी का बयान, कहा- उसमें नमाज पढ़ना हराम, चंदा देना भी गलत

बाबरी मस्जिद पर चल रहे विवाद में सुप्रीम कोर्ट ने लगातार सुनवाई करते हुए पिछले साल अपना फैसला सुनाया था। जिसके बाद से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का काम शुरु हो गया है। साथ ही मुस्लिम समुदाय को अयोध्या में ही मस्जिद बनाने के लिए 5 एकड़ की जमीन मिली। बताया जा रहा है कि उस जगह पर नए मॉडल में जल्द ही एक बड़ा मस्जिद बनाया जाएगा। जिसे लेकर तैयारियां शुरु हो गई है। इसी बीच हैदराबाद से सांसद और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने अयोध्या में बनने वाली मस्जिद को लेकर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि उस मस्जिद में नमाज पढ़ना हराम है।

…ऐ जालिमों चुल्लू भर पानी में डूब मरो

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने अयोध्या में 5 एकड़ में बनने वाली मस्जिद को लेकर कहा है कि मस्जिद में नमाज पढ़ना हराम है, मस्जिद के लिए चंदा देना भी गलत है। उन्होंने कहा, इस मस्जिद को बनाने वालों को चुल्लू भर पानी में डूब जाना चाहिए। असदुद्दीन ओवैसी ने आगे कहा कि जो लोग बाबरी मस्जिद की जगह 5 एकड़ जमीन लेकर मस्जिद बना रहे हैं। हकीकत में वो मस्जिद नहीं बल्कि मस्जिद-ए-जीरार है…ऐ जालिमों चुल्लू भर पानी में डूब मरो। उन्होंने कहा कि ‘मैंने हर तरह के उलेमाओं से पूछा…तो सबने कहा कि उस मस्जिद में नमाज नहीं पढ़ी जा सकती…उसमें नमाज पढ़ना हराम है…उसमें पैसा देना गलत है।‘

बीजेपी ने दी संविधान पढ़ने की सलाह

बता दें, बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद से ही असदुद्दीन ओवैसी कई तरह की प्रतिक्रिया दे चुके हैं। उन्होंने सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी पर भी कई तरह के आरोप लगाए। साथ ही सुप्रीम कोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की राज्यसभा सदस्यता को लेकर भी विपक्षी पार्टियों की ओर से तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आई थी। दरअसल, बाबरी मस्जिद, राफेल समेत कई मुद्दों पर तत्कालीन चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने फैसला सुनाया था।

असदुद्दीन ओवैसी के इस बयान पर तेलंगाना के बीजेपी नेता एनवी सुभाष की प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होंने कहा है कि ‘हैदराबाद सांसद असदुद्दीन ओवैसी का अयोध्या में बन रही मस्जिद को लेकर दिया बयान वाकई निंदनीय है। मैं मिस्टर ओवैसी से कहूंगा कि वह संविधान पढ़ें क्योंकि भारत के संविधान के मुताबिक, कोई भी कहीं भी पूजा-अर्चना कर सकता है या नमाज पढ़ सकता है।

हरियाणा में बीजेपी को लगा बड़ा झटका, किसानों के समर्थन में 3 बार विधायक रह चुके नेता ने छोड़ी पार्टी

जिस व्यक्ति पर देश का बच्चा-बच्चा हंसता है, उसे प्रधानमंत्री बनाने का सपना देखती है उसकी अम्मा- प्रज्ञा सिंह

गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा पर क्या बोली राजनीतिक पार्टियां?

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

The Nation First

द नेशन फर्स्ट एक हिंदी न्यूज़ वेबसाइट है जो देश-दुनिया की खबरों के साथ-साथ राजनीति, मनोरंजन, अपराध, खेल, इतिहास, व्यंग्य से जुड़ी रोचक कहानियां परोसता है.

Leave a Reply