केजरीवाल का बड़ा ऐलान, यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में हिस्सा लेगी आम आदमी पार्टी

दिल्ली से शुरु हुई आम आदमी पार्टी का सफर अब दिन प्रतिदिन देश के अन्य राज्यों की ओर बढ़ता जा रहा है। दिल्ली के आलावा देश के कई राज्यों में लाखों लोग आम आदमी पार्टी से जुड़े हुए हैं। हाल ही में आम आदमी पार्टी ने गोवा के जिला पंचायत चुनावों में पहली बार ऐतिहासिक जीत हासिल की। इसी बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री औऱ आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने साल 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। उन्होंनें सोशल मीडिया पर एक वीडियो जारी करते हुए इस बात का ऐलान किया। केजरीवाल ने कहा कि यूपी की जनता अब बदलाव चाहती है। उन्होंने यूपी में भी दिल्ली की तर्ज पर सस्ती बिजली और मोहल्ला क्लीनिक आदि बनाने की बात भी कही है।

‘यूपी की राजनीति में ईमानदारी की कमी’

सीएम केजरीवाल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक वीडियो जारी करते हुए इस बात की पुष्टि की। वीडियो में उन्होंने कहा है कि ‘उत्तर प्रदेश का विकास वहां की गंदी राजनीति और भ्रष्ट नेताओं की वजह से रुक गया है। इसलिए दिल्ली में जो सुविधाएं लोगों को मिल रही है, वो UP में अभी तक नही मिली। उत्तर प्रदेश में राजनीतिक पार्टियों ने लोगों की पीठ में छुरा घोंपा है।‘ उन्होंने कहा कि यूपी की राजनीति में ईमानदारी की कमी है।

अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के विस्तार की बात करते हुए कहा कि पिछले 8 सालों में आप ने दिल्ली में 3 बार सरकार बनाई है। साथ ही पंजाब की राजनीति में मुख्य विपक्षी पार्टी के रुप में उभर कर सामने आई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में रहने वाले यूपी लोग औऱ यूपी के कई संगठनों के आग्रह पर आम आदमी पार्टी ने यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में हिस्सा लेने जा रही है।

केजरीवाल ने किए कई चुनावी वादें

यूपी विधानसभा चुनाव लड़ने के ऐलान के साथ ही आप संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कई चुनावी वादें भी कर दिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली में मिलने वाली सुविधाएं यूपी की जनता को भी मिलनी चाहिए। केजरीवाल ने बिजली, स्वास्थ्य, शिक्षा सहित तमाम मुद्दों पर अपनी राय रखी, उसे ठीक करने और सुचारु रुप से लागू करने का आश्वासन भी दिया है।

मौजूदा समय में यूपी में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है। जो प्रदेश के विकास के लिए लगातार काम कर रही है। लेकिन यूपी की राजनीति में आप का बढ़ता वर्चस्व यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में बीजेपी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है।

सरकार के लिए असंतुष्ट छात्र देशद्रोही औऱ किसान दुश्मन, सिर्फ उद्योगपति ही अच्छे दोस्त हैं

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply