नींद से जगे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार! आज 4 दिनों बाद की लाल किले पर हुई घटना की निंदा

बिहार की राजनीतिक गलियारों में हलचले तेज है। केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों को लेकर विपक्षी पार्टियां केंद्र सरकार पर हमलावर है। तो वहीं, दूसरी ओर विपक्ष के नेता केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चुप्पी को लेकर भी सवाल उठा रहे हैं।

आज शनिवार को बिहार में किसान आंदोलन के समर्थन में महागठबंधन की ओर से मानव श्रृंखला का आयोजन किया गया। सीएम नीतीश ने इसे लेकर प्रतिक्रिया दी है। आज उन्होंने गणतंत्र दिवस के दिन राजधानी दिल्ली में ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा की निंदा की, लेकिन नए कृषि कानूनों के मुद्दे पर उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दिया।

विपक्ष के मानव श्रृंखला पर नीतीश की प्रतिक्रिया

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गणतंत्र दिवस के मौके पर लाल किले पर फहराए गए धार्मिक झंडे का विरोध किया है। उन्होंने कहा, लाल किले पर आ जो हुआ है वह निंदनीय है। सीएम ने कहा कि सबको अपनी बात रखने का हक है लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि आप ऐसा काम करें जो देशविरोधी हो, देशहित में न हो। बिहार में आज बनाई गई मानव श्रृंखला पर प्रतिक्रिया देते हुए नीतीश कुमार ने कहा, इसकी शुरुआत तो हमने ही की थी, दूसरों को भी ऐसा करने का अधिकार है।

दूसरी ओर नए कृषि कानूनों पर नीतीश कुमार की चुप्पी को लेकर भी लगातार सवाल उठ रहे हैं। बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर सवालियां निशाना साधते हुए कहा कि यह कृषि कानून देश की 80 फीसदी आबादी को प्रभावित करता है। हम महागठबंधन के लोग मजबूती के साथ किसानों के साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा जब आरजेडी की सरकार थी तब एमएसपी से ज्यादा कीमतों पर फसलों की खरीद है। हम नीतीश कुमार से पूछना चाहते हैं कि आप चुप क्यों हैं?

बिहार में मानव श्रृंखला

बता दें, महागठबंधन की ओर से आज बिहार में केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों के विरोध में और किसान आंदोलन के समर्थन में मानव श्रृंखला का आयोजन हुआ। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव समेत विपक्ष के लगभग सभी नेताओं ने इसमें हिस्सा लिया। बताया जा रहा है कि प्रदेश के हर गांव के चौक-चौराहों पर लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। हालांकि, सत्ताधारी एनडीए की ओर से मानव श्रृंखला को लेकर तरह-तरह की बयानबाजियां भी की गई। एनडीए के कई नेताओं ने तेजस्वी यादव को प़ॉलिटिकल टूरिस्ट बताकर हमला बोला था।

आंदोलन स्थल पर इंटरनेट सेवा बंद! किसान नेताओं ने जताई नाराजगी

किसान आंदोलन के समर्थन में बिहार में आज मानव श्रृंखला, राजनीतिक पार्टियां आमने-सामने

पंजाब में पाकिस्तान की ओर से भेजे जा रहे हथियार और पैसे, सीएम अमरिंदर सिंह ने केंद्र को किया अलर्ट

किसान आंदोलन में बिजली-पानी बंद करने को लेकर बीजेपी पर बरसे मनीष सिसोदिया

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply