विपक्षियों को नीतीश का दो टूक जवाब, कहा- बिहार में नहीं है कोई सियासी संकट

बिहार की सियासत में खींचतान जारी है। अरुणाचल प्रदेश की घटना के बाद लगातार इस बात का दावा किया जा रहा है कि बिहार की एनडीए गठबंधन में सबकुछ ठीक नहीं है। आरजेडी प्रदेश के मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को खुला ऑफर भी दे चुकी है तो वहीं, दूसरी ओऱ आरजेडी के कुछ वरिष्ठ नेता जदयू के विधायकों से संपर्क होने की बात कर रहे हैं। इन तमाम अटकलों के बीच प्रदेश के सीएम नीतीश कुमार का बयान सामने आया है। साल 2021 के आगाज के साथ ही उन्होंने दावा किया है कि उनके सामने किसी भी प्रकार का कोई सियासी संकट नहीं है। विपक्षी पार्टियों की ओर से बिहार में लगातार सत्ता परिवर्तन की बात कही जा रही है लेकिन नीतीश के इस बयान ने काफी हद तक सबकुछ क्लीयर कर दिया है।

नीतीश से विपक्षी पार्टियों को दिया जवाब

बीते दिन शुक्रवार को नीतीश कुमार ने परिवहन विभाग की समीक्षा बैठक में हिस्सा लिया और कई तरह के बड़े फैसले लिए। जिसके बाद मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उनसे सवाल पूछा गया कि, क्या नए साल में उनके सामने किसी प्रकार का कोई सियासी संकट है? जिसके जवाब में उन्होंने कहा, नहीं-नहीं कोई संकट नहीं है।
जानें क्या था विपक्ष का दावा?

दरअसल, पिछले दिनों विपक्षी दलों के कई नेताओं ने दावा किया था कि 14 जनवरी के बाद बिहार की सियासत में बड़ा उलटफेर देखने को मिल सकता है और महागठबंधन सत्ता में आ सकता है। आरजेडी के वरिष्ठ नेता और विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने नीतीश कुमार को ऑफर दिया था कि वो एनडीए से अलग होकर तेजस्वी यादव को सीएम बनाए। जिसके बदले में पार्टी लोकसभा चुनाव 2024 में उन्हें विपक्ष की ओर से सीएम उम्मीदवार बनाने का पूरा प्रयास करेगी।

वहीं, दूसरी ओर आरजेडी नेता और पूर्व मंत्री श्याम रजक ने दावा किया था कि जदयू के 17 विधायक आरडेजी के संपर्क में है। और वे जल्द ही जदयू छोड़कर आरजेडी में शामिल हो जाएंगे। बता दें, पिछले दिनों अरुणाचल प्रदेश में जदयू के 6 विधायक बीजेपी में शामिल हो गए। जिसके बाद से ही बिहार की सियासत में खलबली मची हुई है लेकिन नीतीश कुमार के बयान ने प्रदेश में जारी सियासी हलचल पर लगभग विराम लगा दिया है।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव नहीं लगवाएंगे टीका, कहा- बीजेपी की वैक्सीन पर भरोसा नहीं, उठें सवाल!

बिहार की राजनीति में मचा बवाल, आरजेडी की जदयू को चुनौती- बचा सकते हो तो बचा लो अपने विधायक

नीतीश की बढ़ी मुश्किलें, श्याम रजक का दावा जदयू के 17 विधायक आरजेडी में जाने को तैयार

BJP-JDU के रिश्तों में खटास, आरजेडी ने तेजस्वी यादव को सीएम बनाने के लिए समर्थन मांगा

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े 

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *