नीतीश के बयान से बिहार की सियासत में उलट-फेर की संभावना तेज, तेजप्रताप बोले- इस साल बना लेंगे सरकार

बिहार की एनडीए सरकार में अंदरखाने सब कुछ ठीक नहीं चल रहा। जिसका प्रमाण जदयू नेताओं के बयानबाजियों से लगातार मिलता आ रहा है। पिछले दिनों बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के दौरान कहा था कि चुनाव के समय कौन दोस्त है और कौन दुश्मन? इस बात का पता ही नहीं चला। जिसके बाद से यह बात लगभग स्पष्ट हो गई है कि एनडीए गठबंधन के अंदर कुछ तो खिचड़ी पक रही है।

दूसरी ओर एनडीए गठबंधन में कथित तौर पर पनप रही कलह प्रदेश की विपक्षी पार्टियों के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। विपक्ष की ओर से लगातार इस बात का दावा किया जा रहा है कि बिहार की मौजूदा एनडीए सरकार ज्यादा दिनों तक चलने वाली नहीं है। प्रदेश की प्रमुख विपक्षी पार्टी पहले ही जदयू विधायकों से संपर्क की बात कह चुकी है। इसी बीच आरजेडी नेता और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के भाई तेजप्रताप यादव ने इस साल बिहार में सरकार बनाने की बात कही है।

मीडिया वाले पहले वैक्सीन लगवाएं

वाराणसी में बाबा काशी विश्वनाथ के मंदिर में दर्शन करने के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने यह बात कही। तेजप्रताप यादव ने कहा कि 2021 में हमारी सरकार आ रही है। नीतीश सरकार के गिरने के सवाल पर उन्होंने कहा कि गिर गई है सरकार। तो वहीं, कोरोना वैक्सीन लगवाने के सवाल पर जवाब देते हुए तेजप्रताप यादव ने कहा कि पहले मीडिया के लोग वैक्सीन लगवा लें, क्योंकि मीडिया के लोग ग्राउंड में रहते हैं। साथ ही नीतीश कुमार के दुश्मन और दोस्त का पता नहीं चला, वाले बयान पर तेजप्रताप ने कहा कि यह लोग पूरी तरह से खत्म हो चुके हैं।

अभी तक नहीं हुआ है कैबिनेट का विस्तार

दरअसल, बिहार की एनडीए सरकार में मचे उथल-पुथल के बाद विपक्षी पार्टियों को प्रदेश में सरकार बनाने के लिए उम्मीद की किरण नजर आने लगी है। दूसरी ओर बिहार में एनडीए की सरकार बनें दो महीने से ज्यादा का समय बीत चुका है। लेकिन अभी तक कैबिनेट का विस्तार नहीं हुआ है। साथ ही राज्यपाल कोटे की विधान परिषद सीटों के बंटवारे को लेकर भी अभी स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है।

मौजूदा समय में बिहार में मात्र 14 मंत्री ही सभी विभागों की बागडोर संभाले हुए हैं। पिछले दिनों सीएम नीतीश कुमार ने मंत्रिमंडल विस्तार में हो रही देरी के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया था। ऐसे में बिहार की सियासत में स्थिति क्या होगी, यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

जीतन राम मांझी ने बीजेपी को बताया साजिश करने वाली पार्टी! नीतीश कुमार की हुई जमकर तारीफ

नीतीश ने बीजेपी पर बोला जोरदार हमला, कैबिनेट विस्तार में देरी के लिए ठहराया जिम्मेदार

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े 

Facebook Comments

Leave a Reply