अलीगढ़ यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र ने की हिंदू धर्म पर आपत्तिजनक टिप्पणी, देवेंद्र फडणवीस ने सीएम को लिखा पत्र

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में लगभग पिछले 1 साल से बीजेपी की तमाम कोशिशों के बावजूद महा विकास अघाड़ी की सरकार चल रही है। प्रदेश के तमाम मुद्दों पर विपक्षी पार्टियां ठाकरे सरकार को निशाने पर भी ले रही है। इसी बीच महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने सीएम उद्धव ठाकरे को एक चिट्ठी लिखी है।

जिसमें उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। बताया जा रहा है कि शरजील उस्मानी ने 30 जनवरी 2020 को पुणे में एक कार्यक्रम के दौरान हिंदू धर्म को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। जिसे लेकर विपक्षी पार्टियां प्रदेश सरकार से इस मामले पर सख्त कार्रवाई करने की मांग कर रही है।

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने पूछा तानाशाहों के नाम M से शुरु क्यों होते हैं? बीजेपी ने किया पलटवार

महाराष्ट्र में कोई आए और माहौल खराब करे…बर्दाश्त नहीं

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे पत्र में देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि ‘हिंदवी स्वराज्य के संस्थापक छत्रपति शिवाजी महाराज के महाराष्ट्र में कोई भी आए और यहां का माहौल खराब करके चला जाए, यह हमें मंजूर नहीं है। शरजील उस्मानी नामक दुर्भावना से युक्त युवा महाराष्ट्र में आकर हिन्दू समाज को अपमानित करता है और उसके ऊपर अभी तक कोई कानूनी कार्रवाई राज्य सरकार द्वारा नहीं की जाती है, यह आश्चर्यजनक है।‘

शरजील उस्मानी का क्या था बयान?

पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में शरजील उस्मानी के हिंदू समाज के खिलाफ उस बयान का जिक्र किया है जिसे उसने पुणे में दिए गए एक भाषण में कहा था। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी ने कहा था कि ‘आज का हिन्दू समाज, हिंदुस्तान में हिंदू समाज बुरी तरीके से सड़ चुका है। ये जो लोग लिंचिंग करते हैं, कत्ल करते हैं, ये कत्ल करने के बाद अपने घर जाते हैं तो क्या करते होंगे अपने साथ?

उसने कहा था कि ये कोई नए तरीके से हाथ धोते होंगे, कुछ दवा मिलाकर नहाते होंगे। क्या करते हैं ये लोग कि वापस आकर हमारे बीच खाना खाते हैं, उठते-बैठते हैं, फिल्में देखते हैं। अगले दिन फिर किसी को पकड़ते हैं फिर कत्ल करते और नॉर्मल लाइफ जीते हैं। अपने घर में मोहब्बत भी कर रहे हैं, अपने बाप का पैर भी छू रहे हैं, मंदिर में पूजा भी कर रहे हैं, फिर बाहर आकर यही करते हैं…’

यह भी पढ़ें:

TMC सांसद नुसरत जहां ने बताया, आखिर क्यों जय श्रीराम के नारे से नाराज हुई थी ममता बनर्जी?

पेट्रोल की कीमत पर सुब्रमण्यम स्वामी का तंज, रावण की लंका में कीमत 51 रुपये, राम के भारत में कीमत पहुंची 93 रुपये/लीटर

नए कृषि कानूनों पर किसानों में रोष व्याप्त, 6 फरवरी को देश भर में चक्का जाम करेंगे किसान

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply