सपा प्रमुख अखिलेश यादव नहीं लगवाएंगे टीका, कहा- बीजेपी की वैक्सीन पर भरोसा नहीं, उठें सवाल!

पूरी दुनिया में कोरोना का कहर जारी है। साथ ही देश में अभी भी हर रोज 20 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं और सैकड़ों लोगों की मौतें हो रही है। हालांकि, दुनिया के कई देशों में इस खतरनाक महामारी से बचने और इसके रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन का काम जोरों पर है। भारत में भी आज से वैक्सीनेशन का काम शुरु हो गया है। केंद्र सरकार ने आज 2 जनवरी 2021 से देश के हर राज्य में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन का फैसला लिया है।

कई केंद्रों पर वैक्सीनेशन का काम चल रहा है। इसी बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कोरोना वैक्सीन को लेकर बयान दिया है जिसपर जमकर राजनीति हो रही है। अखिलेश यादव का कहना है कि वो कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। उन्होंने कहा, मुझे बीजेपी की वैक्सीन पर भरोसा नहीं है। उनके इस बयान पर बीजेपी के कई नेताओं ने प्रतिक्रियाएं दी है।

बीजेपी नेताओं ने बोला हमला

अखिलेश यादव के बयान पर बीजेपी शासित यूपी के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा, अखिलेश यादव को वैक्सीन पर भरोसा नहीं और उत्तर प्रदेश वासियों को अखिलेश यादव पर भरोसा नहीं है। उन्होंने कहा, वैक्सीन पर सवाल उठाना वैज्ञानिकों का अपमान है, उनको (अखिलेश यादव) इसके लिए माफी मांगनी चाहिए।
दूसरी ओर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी अखिलेश यादव के बयान पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा, ‘पीएम मोदी ने जान है तो जहान है की बात कही है। कोरोना वैक्सीन के लिए दुनिया भर के वैज्ञानिकों ने रात दिन इसलिए एक करा कि कम से कम जानें जाएं। अखिलेश यादव अपनी डूबती राजनीति बचाने के लिए दुर्भाग्यपूर्ण बयानबाजी कर रहे हैं।‘

नए कृषि कानूनों को लेकर सरकार पर बरसे सपा प्रमुख

बता दें, शनिवार को अखिलेश यादव ने नए कृषि कानूनों को लेकर भी केंद्र सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने गाजीपुर बॉर्डर पर हुए किसान की मौत को लेकर बीजेपी सरकार पर सवाल उठाए। सपा प्रमुख ने कहा, ‘नव वर्ष के पहले दिन ही किसान आंदोलन में ग़ाज़ीपुर बार्डर पर एक किसान की शहादत की ख़बर विचलित करने वाली है। घने कोहरे व ठंड में किसान लगातार अपने जीवन का बलिदान कर रहे हैं, लेकिन सत्ताधारी हृदयहीन बने बैठे हैं। बीजेपी जैसा सत्ता का इतना दंभ व इतनी निष्ठुरता अब तक कभी नहीं देखी गई।‘

बिहार की राजनीति में मचा बवाल, आरजेडी की जदयू को चुनौती- बचा सकते हो तो बचा लो अपने विधायक

नीतीश की बढ़ी मुश्किलें, श्याम रजक का दावा जदयू के 17 विधायक आरजेडी में जाने को तैयार

BJP-JDU के रिश्तों में खटास, आरजेडी ने तेजस्वी यादव को सीएम बनाने के लिए समर्थन मांगा

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े 

Facebook Comments

Leave a Reply