IND VS ENG: दुसरे टेस्ट में 317 रनों के बड़े अंतर से जीत गई टीम इंडिया, सीरीज 1-1 से बराबर

भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई के चेपक में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने 317 रनों के बड़े अंतर से जीत हासिल कर ली है। इस जीत के साथ ही भारत 4 मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-1 से बराबर हो गया है। कुछ बदलाव के साथ दूसरे टेस्ट में उतरी भारतीय टीम के लाजवाब परफॉर्मेंस के आगे इंग्लैंड की टीम ढ़ेर हो गई।

दोनों ही पारियों में इंग्लैंड का कोई भी बल्लेबाज कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाया। भारत की ओर से मिले 481 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड के टीम मात्र 164 रनों पर ऑलआउट हो गई। अपना डेब्यू टेस्ट खेल रहे अक्षर पटेल ने दूसरी पारी में 5 विकेट चटकाएं और भारत के जीत की राह आसान कर दी।

मैच रिपोर्ट

पहली पारी में बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने रोहित शर्मा और आजिंक्य रहाणे की शानदार पारी की बदौलत 329 रनों का स्कोर खड़ा किया था। रोहित शर्मा ने शानदार 161 रनों की पारी खेली थी, जबकि आजिंक्य रहाणे ने 67 रन बनाए थे। जिसके जवाब में पहली पारी में बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की टीम 134 रनों पर ऑलआउट हो गई। भारतीय गेंदबाजों ने इंग्लिश बल्लेबाजों को हाथ खोलने का मौका नहीं दिया।

आर अश्विन ने 5 विकेट चटकाए, जबकि अक्षर और इशांत शर्मा ने 2-2 और सिराज ने 1 इंग्लिश बल्लेबाज को पवेलियन भेजा। भारतीय टीम को अब 195 रनों की लीड मिल गई थी। अब इस स्कोर को बडे स्कोर में तब्दील करने की बारी थी। लेकिन दूसरी पारी में भारत का शीर्ष क्रम कमाल नहीं कर पाया। कप्तान विराट कोहली (62) को छोड़कर अन्य कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल सका। निचले क्रम में आर अश्विन ने मोर्चा संभाला और शानदार 106 रन ठोक दिए।

अश्विन बने मैन ऑफ द मैच

अश्विन के शतक की मदद से भारतीय टीम ने दूसरी पारी में 286 रन बनाए और इंग्लैंड को चौथी पारी में 481 रनों का बड़ा लक्ष्य दे दिया। चौथी पारी में इतने बड़े स्कोर का पीछा करना किसी भी टीम के लिए आसान नहीं होता। और हुआ भी कुछ ऐसा हीं, 481 रनों का पीछा कर रही इंग्लैंड की टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गई। दूसरी पारी में इंग्लैंड की ओर से कप्तान जो रुट (33) और मोईन अली (43) ने सबसे ज्यादा रन बनाए।

अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे अक्षर पटेल ने इस मैच में 7 विकेट चटकाएं। आर अश्विन ने ऑलराउंडर खेल का प्रदर्शन करते हुए अपने होम ग्राउंड पर एक शतक के साथ 8 विकेट चटकाए। जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया।

यह भी पढ़ें:

युवराज सिंह की बढ़ी मुश्किलें…दर्ज हुआ मुकदमा, जानिए क्या है पूरा मामला ?

किस्सा: जब भारत ने जीता था अपना पहला टेस्ट मैच, 20 सालों तक करना पड़ा था इंतजार

जब कुंबले के लिए अपनी कप्तानी दांव पर लगा बैठे थे गांगुली

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *