2020 की ये 5 हिंदी वेब सीरीज आपने नही देखी तो समझो कुछ नही देखी


भारत में अभी वेब सीरीज का बोलबाला है. थिएटर में रिलीज होने वाली फिल्मों के मुकाबले डिजिटल प्लेटफार्म पर रिलीज की जाने वाली वेब सीरीज लोगों को ज्यादा पसंद आ रही है. पिछले पांच सालों में वेब सीरीज ने फिल्मों के समानान्तर अपना एक अलग बाजार तैयार कर लिया है. लगभग हर महीने netflix, mx player, amazon prime, zee5 जैसे कई प्लेटफार्मस पर एक से एक धाकड़ वेब सीरीज रिलीज होते हैं.

द फैमिली मैन, आश्रम , सेक्रेड गेम्स, मिर्जापुर, द क्रिमिनल जस्टिस, अपहरण जैसी कई वेब सीरीज ने दर्शकों की ख़ूब वाहवाही बटोरी. अभी भी कई ऐसी वेब सीरीज आने वाली है जिसका दर्शक बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. तो आप भी अगर अच्छी वेब सीरीज या कहानी के शौक़ीन हैं तो ये वीडियो आपके लिए है

इस वीडियो में हम आपको कुछ ऐसी वेब सीरीज को बारे में बताने वाले है, जिसकी कहानी दमदार है और आपको आखिर तक बांधे रखेंगे.

पंचायत-

 Panchayat - Season 1 | Prime Video

अगर आपको गांव के परिवेश और उसके इर्द गिर्द घूमती कहानियां पसंद है तो ऐमज़ॉन प्राइम की सीरीज पंचायत आपके लिए बेस्ट चॉइस है. पंचायत के एक ऐसे लड़के (अभिषेक) की कहानी है जो अपनी कॉलेज की पढ़ाई खत्म करने के बाद एक नौकरी की तलाश में रहता है. और उसकी ये तलाश खत्म होती है जब उसे यूपी के एक छोटे से गाँव मे बतौर पंचायत सचिव नियुक्त किया जाता है. लेकिन कुछ समय बाद ही वह इस नौकरी से परेशान हो जाता है क्योंकि गांव के लोग हैं तो बड़े भोले और साफ दिल के लेकिन साथ ही बड़े अतरंगी और अजीब भी हैं. अपनी नौकरी और गांव के लोगों से पीछा छुड़ाने के लिए अभिषेक CAT की तैयारी करता है जो उसे इस गांव की जिंदगी से निकाल कर शहर की हाई फाइ जिंदगी में ले जा सकता है. क्या एक अच्छी सैलरी और हाई फाई जिंदगी ही जीवन को बेहतर बना सकती है या गांव का जीवन भी जिंदगी एक आकर्षक रूप दे सकती है? इसी सवाल का जवाब दे रही है ऐमज़ॉन प्राइम की पंचायत. इस सीरीज की usp है इसकी कहानी , कमाल का अभिनय और इसके जानदार डॉयलोग

स्कैम 1992: द हर्षद मेहता स्टोरी

Scam 1992 – The Harshad Mehta Story

सोनी लिव की वेब सीरीज़ ‘स्कैम 1992: द हर्षद मेहता स्टोरी’ साल 1992 में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में किये गए घोटाले पर आधारित है. इस घोटाले के चलते हर्षद शांतिलाल मेहता बड़े विवादों में आ गए थे. हर्षद मेहता को स्टॉक मार्केट का बिग बुल और अमिताभ बच्चन कहा जाता था. 80-90 के दशक में वो आए दिन अखबारों की सुर्खियाँ हुआ करते थे. हर्षद मेहता ने 1981 में अपनी कंपनी खोली और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में बतौर ब्रोकर मेंबरशिप ले ली. मार्केट में शेयर बेचने व खरीदने के लिए मोटी राशी का लेन-देन होता था और बैंकिंग सिस्टम की कमज़ोर कड़ियों को खोजकर हर्षद ने भारी हेर-फेर किया था.
यह 10 एपिसोड की सीरीज है. जिसे हंसल मेहता ने डायरेक्ट किया है. हंसल मेहता इससे पहले भारतीय सिनेमा को ‘ओमर्टा’,’ शाहिद’ और ‘अलीगढ़’ जैसी शानदार फ़िल्में दे चुके हैं. हर्षद मेहता के किरदार में प्रतीक गांधी ने बेहतरीन अभिनय किया है. उनकी हर एक बॉडी लैंग्वेज और डायलॉग डिलीवरी इस सीरीज में और जान दाल देती है.

अनदेखी

Undekhi review

सोनी लिव की वेब सीरीज अनदेखी 10 एपिसोड की कहानी है. अगर आप क्राइम थ्रिलर फिल्मों के शौकीन है तो यह सीरीज आपको बहुत पसंद आने वाला है. कहानी बंगाल के सुंदरबन से शुरू होती है जहाँ एक पुलिसवाले की हत्या हो गई है. केस की छानबीन कर रहे डीएसपी घोष को पता चलता है कि इस हत्या में जंगल में रहने वाली दो ट्राइबल लड़कियों का हाथ है. डीएसपी घोष उन्हें ढूंढने लगते हैं और उनकी ये इन्वेस्टिगेशन उन्हें सुंदरबन से मनाली लेकर जाती है. इधर मनाली में उस दो में से एक ट्राइबल लड़की की हत्या हो जाती है. इस हत्या के तार अटवाल फैमिली से जुड़े हैं जिनका इलाके में दबदबा रहता है. अब डीएसपी घोष को दो मामले सुलझाने हैं .क्या इमानदार डीएसपी घोष इन दोनों मामलों को सुलझा पाएंगे ? यह सीरीज इसी इर्दगिर्द घुमती है. बंगाली डीएसपी घोष का किरदार निभाया है दिब्येंदु भट्टाचार्य ने जो इस कहानी में जान डाल देती है.

आश्रम

Web Series Aashram,

प्रकाश झा के निर्देशन में बनी एमएक्स प्लेयर की वेब सीरीज़ है ‘आश्रम’. इसके दो सीजन अभी तक रिलीज़ हो हुके हैं. दोनों सीजन मिलाकर कुल 18 एपिसोड हैं और मेकर्स ने तीसरे पार्ट की तरफ इशारा भी कर दिया है, मतलब कहानी अभी बाक़ी है.

कहानी बाबा निराला काशीपुर वाले (बॉबी देओल) की है. जो अपने मायाजाल से बड़ा साम्राज्य चलाता है. बाबा का एक बड़ा आश्रम है. बाहरी दुनिया के लिए इस आश्रम में दान-धर्म का काम होता है. बाबा सामाजिकरूप से पिछड़े लोगों की मदद करता है. उसके पास स्कूल, कॉलेज, हॉस्पिटल और वृद्धा आश्रम जैसी ना जाने कितनी संपतियां हैं. बाबा की अच्छी राजनीतिक पकड़ भी है. सत्ताधारी और विपक्षी पार्टी दोनों ही बाबा के दरबार में हाजरी लगाते हैं.

इस वेब सीरीज़ कहानी आपको जानी पहचानी लगेगी. इसके दृश्य काफी हदतक रियलिस्टक रखा गया है. सेवादारों का शोषण, आश्रम में नशे का चलन, बाबा का महिलाओं पर अत्याचार, लोगों की जमीन हड़पन लेना जैसे चीज आपको कहानी से जोड़े रखता है.

स्पेशल ऑप्स

Special Ops - Disney+ Hotstar | hindi web series

डिज्नी हॉटस्टार की वेब सीरीज़ ‘स्पेशल ऑप्स’ कई माइनों में बेहतरीन है. यह 8 एपिसोड की कहानी है जो एक RAW के ऑफ़िसर हिम्मत सिंह के इर्द-गिर्द बुनी गई है. हिम्मत सिंह के ऊपर बिना किसी स्त्रोत के ज्यादा खर्च करने का आरोप है. जिसकी जांच रॉ की इंटरनल कमिटी कर रही है. हिम्मत सिंह 2001 में हुए संसद पर हमले और मुंबई ब्लास्ट जैसे मामलों की जांच भी कर रहा है. उसे इकलाख ख़ान नाम के एक आंतकवादी की तलाश है, जो कि इन हमलों के पीछे का मास्टरमाइंड है. साल 2001 में वह हिम्मत सिंह के हाथ से बच गया था, तब से वह इसकी तलाश में हैं.मीडिल ईस्ट में हिम्मत के लिए रॉ एजेंट काम करते हैं. उसे इकलाख़ ख़ान के ठिकाने के बारे में टिप मिली है. अब वह उसे पकड़ पाता है या नहीं ? और दौरान उसे क्या-क्या दिक्कतें झेलनी पड़ी इस सीरीज की कहानी यही है. हिम्मत सिंह का किरदार बेहतरीन एक्टर के.के मेनन ने किया है.

  • 2020 में आपको सबसे बेहतरीन कौन सी वेब सीरीज लगी और किसकी परफॉर्मेंस सबसे अच्छी लगी आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं और अगर आप इस चैनल पर नये तो हमें सब्सक्राइब और फॉलो भी कर सकते हैं.

रणबीर-आलिया-करीना से लेकर प्रियंका तक, बॉलीवुड स्टार के ये हैं बचपन के क्रश

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Praful Shandilya

praful shandilya is a journalist, columnist and founder of "The Nation First"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *