राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बोला जोरदार हमला, कहा- अहंकार छोड़ो, किसानों की तकलीफ समझो…

दिल्ली के बॉर्डरों पर किसान पिछले 73 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं। अभी तक 150 से ज्यादा किसानों की मौत हो चुकी है। विपक्षी पार्टियां इस मामले को लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर है। आज रविवार को दिल्ली-हरियाणा के टिकरी बॉर्डर पर पंजाब से कल शनिवार को किसान आंदोलन में हिस्सा लेने आए 60 वर्षीय किसान की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई।

बीती रात एक अन्य किसान कर्मबीर ने फांसी लगाकर जान दे दी थी। आंदोलन के दौरान किसानों के मौत का सिलसिला जारी है। देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस इन मुद्दों को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर हमलावर है। इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर से केंद्र सरकार पर हमला बोला है और नए कृषि कानूनों को वापस करने की मांग की है।

राहुल गांधी का पूरा बयान…

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा, ‘किसान-मज़दूर के गांधी जयंती तक आंदोलन के निर्णय से उनके दृढ़ संकल्प के साथ ही ये भी साफ़ है कि वे मोदी सरकार से कितने नाउम्मीद हैं। अहंकार छोड़ो, सत्याग्रही किसानों की तकलीफ़ समझो और कृषि-विरोधी क़ानून वापस लो!’ राहुल गांधी इससे पहले भी प्रेस कांफ्रेंस और सोशल मीडिया के जरिए किसान आंदोलन का समर्थन कर चुके हैं।

2 अक्टूबर के बाद देशभर में जाएगा किसान आंदोलन

दरअसल, 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा के बाद किसान आंदोलन में कई तरह के उतार-चढ़ाव देखने को मिले। लेकिन आंदोलन अभी भी लगातार जारी है।

बीते दिन शनिवार को किसान संगठनों ने 3 घंटे के लिए चक्का जाम किया था। जिसके बाद किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा था कि किसान 2 अक्टूबर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंति तक गाजीपुर बॉर्डर पर किसान आंदोलन करते रहेंगे।

अगर तब तक केंद्र सरकार इन नए कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती, तब किसान आंदोलन देशव्यापी हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके लिये वे देश भर में भ्रमण करेंगे। सभी राज्यों का दौरा करके किसानों की समस्याओं को रखेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगर सरकार बातचीत करे तो किसान इसके लिए भी तैयार हैं।

यह भी पढ़ें:

सिराज ने ड्रेसिंग रुम के बाहर पकड़ी कुलदीप यादव की गर्दन, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply