नए कृषि कानूनों पर किसानों में रोष व्याप्त, 6 फरवरी को देश भर में चक्का जाम करेंगे किसान

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन तेज है। राजधानी दिल्ली के बॉर्डरों पर किसान पिछले 68 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं। अभी तक 150 से ज्यादा किसानों की मौत हो चुकी है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आंदोलन कर रहे इलाकों में इंटरनेट पर प्रतिबंध लगाया है। खबरों के मुताबिक अभी यह प्रतिबंध 2 फरवरी रात 12 बजे तक है, लेकिन बताया जा रहा है कि इसे और भी आगे बढ़ाया जा सकता है। गाजीपुर बॉर्डर पर हालात अभी भी नाजुक बने हुए हैं। वहां, सुरक्षा व्यवस्था को काफी तगड़ा कर दिया गया है। इसी बीच किसान संगठनों ने 6 फरवरी को पूरे देश में चक्का जाम करने की बात कही है।

किसान संयुक्त मोर्चा का ऐलान

बीते दिन सोमवार को किसान संयुक्त मोर्चा ने कहा कि 6 फरवरी को दोपहर 12 से 3 बजे तक पूरे देश भर में चक्का जाम करेंगे। किसान संगठन संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से बयान जारी कर यह बात कही गई। बयान में कहा गया कि इस दौरान राष्ट्रीय और राज्य मार्गों का चक्का जाम किया जाएगा। इससे पहले संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से दावा किया गया था कि गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के बाद से 100 से ज्यादा लोग लापता हैं। इसके साथ ही संयुक्त किसान मोर्चा से इस पर चिंता भी ज़ाहिर की।

किला में तब्दील हुआ गाजीपुर बॉर्डर

बता दें, दिल्ली के सिंघु, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर पर किसान डटे हुए हैं। गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिससे प्रशासन के हाथ-पांव फूले हुए हैं। खबरों के मुताबिक बीते दिन सोमवार को गाजीपुर बॉर्डर एक किले के रुप में तब्दील हो गया। प्रदर्शन स्थल पर कई स्तरों पर बैरिकेड लगाए गए हैं और भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने सड़क पर कीलों को जड़ दिया है।

हालांकि, पुलिस की इस कार्रवाई पर सवाल भी उठ रहे हैं। विपक्षी पार्टियों के कई नेता इस मामले को लेकर केंद्र सरकार को निशाने पर ले चुके हैं। उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में फिर से किसान नेता और सरकार के मंत्रियों के बीच बैठक हो सकती है।

बजट को लेकर केंद्र सरकार पर बरसे तेजस्वी यादव, कहा- यह बजट नहीं देश की संपत्तियों को बेचने की सेल थी

बंगाल की सियासत में मचेगा तहलका, ममता बनर्जी की टीएमसी से गठबंधन की तैयारी में आरजेडी!

किसान आंदोलन पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने दी प्रतिक्रिया, कहा- किसानों को अपमानित नहीं किया जा सकता है

बिहार की राजनीति में मचा हड़कंप, JDU में होगा RLSP का विलय!

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और शरद पवार में ट्विटर वार, पवार ने कहा- मेरे कार्यकाल में रिकार्ड स्तर पर बढ़ी MSP

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *