तबाही बना कोरोना, आंकड़ो ने चीन के वुहान को भी पीछे छोड़ा

कोरोना वायरस अब भारत को भी बर्बादी तक ले जाने की फिराक में है। लोगों का बेफिक्री वाला रवैया और दिशानिर्देशों का पालन ना करने की ज़िद ने देश को कोरोना वायरस के कारण छतिग्रस्त हुए टॉप 05 देशों की लिस्ट में ला खड़ा कर दिया है।

यहाँ सरकार का ढीला कानून हो या उनका बेपरवाह रवैया मेरी नज़र में सरकार और नागरिक दोनों की बराबर गलतियां है। लोगों को भारत के मेडिकल विभाग की सच्चाई भली भांति मालूम है, पर फिर भी सोशल डिस्टनसिंग का बहुत जगह सरेआम धज़्ज़ियाँ उड़ी है।

शायद वजह यही है कि महाराष्ट्र में पहला कोरोना संक्रमण का मामला दर्ज किए जाने के 90 दिनों के बाद राज्य ने मंगलवार को संक्रमितों की संख्या के मामले में चीन को पछाड़ते हुए 90,000 मामलों को पार कर लिया है। आंकड़ा बताता है कि महाराष्ट्र में यूनाइटेड किंगडम की तुलना में अधिक तेजी से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। जो हमें विनाशकारी भविष्य अच्छे से दिखा सकते हैं ।

टाइम्स नाउ की मानें तो पिछले 14 दिनों से, महाराष्ट्र में प्रतिदिन 75 से अधिक मौतें हो रही हैं और 2,000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि महाराष्ट्र राज्य में हर 12 मिनट में एक मौत होती है, जबकि राज्य में हर घंटे औसतन 94 नए मामले दर्ज किए जाते हैं।

महाराष्ट्र में 90,000 से अधिक कोरोना संक्रमण के मामले

अब तक, बुधवार सुबह तक महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 90,787 मामले हैं, जो देश भर में दर्ज मामलों का 31 प्रतिशत से अधिक है। राज्य में मरने वालों की संख्या 3,289 हो गई है।

पाठकों को यह भी बता दें, कोरोना के मामले में मुंबई ने वुहान को पीछे छोड़ दिया है कोरोना संक्रमण के 51,000 से अधिक मामलों के साथ, महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई चीन के वुहान (31,000 से अधिक) से भी आगे निकल गया है। मुंबई में काफी तेजी से कोरोना संक्रमण फैल रहा है। महाराष्ट्र के किसी दूसरे शहरों की तुलना में यहां संक्रमण के मामले अधिक हैं। मुंबई में कोरोना संक्रमण मामलों की कुल संख्या को दोगुना होने में अभी 24.5 दिन समय लग रहा है। इसके अलावा, शहर में कोरोमा संक्रमण से ठीक होने वाले लोगों की 44 प्रतिशत की रिकवरी दर है। मुंबई में कोरोना संक्रमितों की मृत्यु दर 3 प्रतिशत है।

लोगों को यह बात अच्छे से समझ जानी होगी यह छुआछूत से फैलने वाली अबतक की सबसे बुरी बीमारी है। एक लापवाही से आप ना सिर्फ अपना बल्कि अपने परिवार तथा अपने आसपास के हर इंसान की जिंदगी खतरे में डाल रहें है ।

जब रक्षक ही बन जाए भक्षक तो इंसानियत कहाँ ढूंढे? कुछ अस्पतालों के राक्षसी रूप हो रहे बेपर्दा

नहीं थम रहा कोरोना का कहर, सील हुई हिमाचल प्रदेश की पुलिस मुख्यालय

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

The Nation First

द नेशन फर्स्ट एक हिंदी न्यूज़ वेबसाइट है जो देश-दुनिया की खबरों के साथ-साथ राजनीति, मनोरंजन, अपराध, खेल, इतिहास, व्यंग्य से जुड़ी रोचक कहानियां परोसता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *