मणिशंकर अय्यर का खत्म हुआ ‘वनवास’, कांग्रेस ने की सदस्यता बहाल

राजनीति से लंबे समय से निलंबित चल रहे मणिशंकर अय्यर के निलबंन को कांग्रेस ने रद्द कर दिया है । ये फैसला कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लिया है। आपको बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी पर बयान देते हुए उन्हें नीच बताया था ।

जिसकी वजह से पार्टी ने उन्हें 2017 में निलंबित कर दिया था । गुजरात में जिस समय विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार प्रसार चल रहा था । ठीक उसी समय अय्यर ने पीएम मोदी के लिए अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया था । जिसके बाद खुद उनकी पार्टी इसके विरोध में उतर आई । साथ ही इस बयान के बाद वो बीजेपी के निशाने पर आ गए । खुद पीएम मोदी ने गुजरात में एक रैली को संबोधित करते हुए इस बयान पर पलटवार किया था ।

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि कांग्रेस दलित वोटों के लिए डॉ. बीआर अंबेडकर केक नाम का इस्तेमाल करती है और देश में उनके योगदान को मिटाने का प्रयास कर रही है. जिसके बाद मणिशंकर अय्यर पीएम मोदी पर पलटवार करते हुए उन्हें नीच किस्म का आदमी कहा था ।

मणिशंकर अय्यर के जिस बयान पर पार्टी में अफरा तफरी मच गई थी। जिसके लिए उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया था। उसके लिए अब पार्टी ने उन्हें माफ कर दिया । शनिवार को कांग्रेस ने उनका निलंबन रद्द करते हुए उनकी सदस्याता बहाल कर दी है ।

जिसको लेकर कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलौत ने एक अधिकारिक नोटिस जारी कर इसकी जानकारी दी गई । जिसमें बताया गया कि पार्टी की केंद्रीय अनुशासनात्मक समिति की सिफारिशों को मानते हुए मणिशंकर अय्यर का निलंबन तत्काल प्रभार से रद्द कर दिया गया है। जिसके बाद से माना जा रहा है कि कांग्रेस के इस कदम को बीजेपी एक बड़ा मुद्दा बना सकती है। इस फैसले के बाद एक बार फिर कांग्रेस बीजेपी के निशाने पर आ गई है ।

Facebook Comments

hareram sharma

Hareram is a tv Journalist

Leave a Reply