साउथ दिल्ली की 12 साल की लड़की ने बनाया “नारी शक्ति” पर शानदार रैप, सोशल मीडिया पर खूब सराही जा रही है

नहीं फूलते कुसुम मात्र राजाओं के उपवन में,
अमित बार खिलते वे पुर से दूर कुञ्ज-कानन में।
समझे कौन रहस्य ? प्रकृति का बड़ा अनोखा हाल,
गुदड़ी में रखती चुन-चुन कर बड़े कीमती लाल।

रामधारी सिंह ‘दिनकर’ द्वारा रचित ‘रश्मिरथी’ की ये पंक्तियां आज की इस लेख के परिपेक्ष्य में बिलकुल सटीक बैठता है. हुनर किसी जगह, उम्र या पहचान की मोहताज नही होती. वो अपना रास्ता, अपनी मंजिल ढूंढ ही लेती है.

अभी हाल ही में रिलीज़ हुई जोया अख्तर की फिल्म ‘गली ब्वॉय’ ने अंडरग्राउंड रैपर्स की जिंदगी से सभी को रूबरू करवाया है. ये ऐसे रैपर्स हैं, जो बॉलीवुड की चकाचौंध से काफी दूर रहकर अपनी चमक बिखेर रहे हैं. आज हम आपको एक ऐसी ही रैपर की कहानी बताने जा रहे हैं जो साउथ दिल्ली में रहती है.

संगम विहार की रहने वाली 12 साल की अंडरग्राउंड रैपर अंजली अग्रवाल आजकल अपने रैप के जरिए सोशल मीडिया पर अपनी चमक बिखेर रही है. अंजली एक गवर्नमेंट स्कूल में कक्षा 7 में पढ़ती है. पढने के साथ-साथ अंजली अपने म्यूजिक और रैप से अपनी जिंदगी एक अलग अंदाज में जी रही हैं.

Naari shakti Rap

हाल ही में अंजली ने नारी दिवस पर “नारी शक्ति” नाम से एक रैप गाया जिसे सोशल मीडिया में काफी सराहा जा रहा है. इस गाने के लेखक शक्ति लोहत हैं. जिनकी उम्र महज 25 साल है वह लेखक के साथ-साथ एक उम्दा नृत्य प्रशिक्षक भी है, उनका कहना है कि “यह रैप पुरुषों की महिलाओ के प्रति मानसिकता को बदलने की कोशिशों में लिखा गया है.”

वहीं इस रैप को विडियो का स्वरुप डायरेक्टर DOP शैंकी ने दिया है, इस रैप के जरिये समाज में महिलाओ की सहभागिता और उन्नति को बताने और दिखाने की मिली जूली कोशिश की गयी है.

Facebook Comments

The Nation First

द नेशन फर्स्ट एक हिंदी न्यूज़ वेबसाइट है जो देश-दुनिया की खबरों के साथ-साथ राजनीति, मनोरंजन, अपराध, खेल, इतिहास, व्यंग्य से जुड़ी रोचक कहानियां परोसता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *