कमलनाथ सरकार गिराने में मोदी जी की अहम भूमिका थी: कैलाश विजयवर्गीय

देश में किसान आंदोलन का मुद्दा तुल पकड़ते जा रहा है। केंद्र सरकार के अनुसार कई किसान संगठन नए कृषि कानूनों को लेकर सरकार के साथ खड़े हैं तो वहीं, कई किसान संगठन इन कानूनों को लेकर सरकार का विरोध कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी के कई नेता किसान आंदोलन के पीछे विपक्षी पार्टियों का हाथ बता चुके हैं। नए कृषि कानूनों के प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए बीजेपी देश के कई हिस्सों में किसान सम्मेलन करा रही है। इसी बीच बीजेपी शासित मध्यप्रदेश के इंदौर में किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार गिराने में अगर किसी की भूमिका थी तो वो नरेंद्र मोदी की थी।

ये पर्दे के पीछे की बात है

इंदौर में किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए कैलाश विजयवर्गीय ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि ‘जब तक कमलनाथ जी की सरकार थी, एक दिन चैन से सोने नहीं दिया। अगर भाजपा का कोई कार्यकर्ता था जो कमलनाथ जी को सपने में भी दिखाई देता था वो नरोत्तम मिश्रा जी थे। तालियां बजाकर नरोत्तम मिश्रा जी का स्वागत करें। ये पर्दे के पीछे की बात बता रहा हूं आप किसी को बताना मत, मैंने आज तक किसी को नहीं बताई, पहली बार मंच पर बता रहा हूं कि कमलनाथ जी की सरकार गिराने में यदि महत्वपूर्ण भूमिका किसी की थी तो नरेंद्र मोदी जी की थी धर्मेंद्र प्रधान जी की नहीं। पर किसी को बताना मत ये बात, आज तक मैंने किसी को नहीं बताई।‘

बीजेपी झूठ बोल रही थी

बीजेपी नेता के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा कि ‘भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने किसान सम्मेलन के मंच से कांग्रेस के उन तमाम आरोपों की पुष्टि कर दी है कि प्रदेश की लोकप्रिय, जनादेश वाली कमलनाथ सरकार को बीच समय में नरेंद्र मोदी जी के इशारे पर गिराया गया है।‘

टीएमसी विधायक के इस्तीफे पर बोली ममता बनर्जी, एक-दो लोगों के जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *