एशिया का दूसरा सबसे लंबा रेल-सड़क पुल है बोगीबील ब्रिज, 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री करेंगे उद्घाटन

असम के डिब्रूगढ़ में देश का सबसे बड़ा और एशिया का दूसरा सबसे लंबा रेल-सड़क पुल बोगीबील ब्रिज बनकर तैयार हो चुका है. ब्रह्मपुत्र नदी पर बने 4.94 किलोमीटर लंबे इस पुल का 25 दिसंबर को प्रधानमंत्री तिनसुकिया-नाहरलगुन इंटरसिटी एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर उद्घाटन करेंगे जिसके बाद असम के तिनसुकिया से अरुणाचल प्रदेश के नाहरलगुन में रेलयात्रा के दौरान लगने वाले वक्त में 10 घंटे से तक की कमी आएगी.

क्या है पुल की खासियत ?

इस बोगीबील ब्रिज की लंबाई 4.94 किलोमीटर कीहै. जिस पर रेल लाइन और सड़क दोनों ही बनाई गई हैं. बता दें कि पुल पर जहां ऊपर 3 लेन की सड़क बनाई गई है तो वहीं पुल के नीचे के हिस्से में 2 रेलवे ट्रैक बनाए गए हैं जिस पर 100 किलोमीटर की रफ्तार से ट्रेनें दौड़ सकेंगी. इस पुल को बनाने में करीबन 5 हजार 800 करोड़ रुपये का खर्च आया है. पुल की खास बात ये है कि ब्रह्मपुत्र नदी पर बना ये पुल कुल 42 खम्बों पर टिका हुआ है जिन्हे नदी के अंदर 62 मीटर तक गाड़ा गया है.

यह पुल 8 तीव्रता का भूकंप झेलने की क्षमता रखते हैं. वहीं इस पुल को बनाने में 77 हजार मैट्रिक टन लोहे का इस्तेमाल हुआ है. जहां पर ये पुल बनाया गया है उस क्षेत्र में मार्च से अक्टूबर तक बारिश होती है. जिसके चलते पुल निर्माण कार्य के लिए हर साल केवल 5 महीने का समय मिलता था. बता दें कि इस पुल की आधारशिला 1997 में तत्कालीन प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा ने रखी थीं, लेकिन इसका निर्माण अप्रैल 2002 में शुरू हो पाया. उस समय तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने रेलमंत्री नीतीश कुमार के साथ इसका शिलान्यास किया था।

अब चीन को मिलेगा मुहतोड़ जवाब

दरसअल, बोगीबील ब्रिज सामरिक लिहाज से इसलिए भी बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि 1962 जैसा धोखा हमें फिर न मिल सके. जब चीन ने अरूणाचल प्रदेश के सीमावर्ती इलाकों पर कब्ज़ा करने के लिए भारत पर हमला कर दिया था. इस युद्ध के दौरान अगर चीन असम की तरफ रुख़ करता तो भारत के पास असम में ब्रहम्पुत्र के उत्तर के इलाकों को बचा पाने का कोई भी रास्ता नहीं था. क्योंकि चीन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए उन इलाकों तक पहुंचना ही मुश्किल था लेकिन अब इस पुल के कारण भारत चीन को भी मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सक्षम है.

यह भी पढ़ें :  इमरान खान को नसीरुद्दीन शाह का करारा जवाब, कहा पहले अपना देश तो संभालिए

Facebook Comments

hareram sharma

Hareram is a tv Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *