नए कृषि कानूनों को लेकर पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह पर भड़की AAP, बताया बीजेपी का एजेंट

किसान आंदोलन को लेकर देश में सियासत चरम पर है। विपक्षी पार्टियां केंद्र सरकार पर हमलावर है तो वहीं, बीजेपी नेताओं की ओर से प्रदर्शन कर रहे किसानों और किसान आंदोलन को लेकर जमकर बयानबाजियां हो रही है। दिल्ली की आम आदमी पार्टी भी कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार और पंजाब सरकार पर हमलावर है। दरअसल, दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों में से लगभग किसान हरियाणा और पंजाब से हैं।

ऐसे में पंजाब सरकार को लेकर भी तरह-तरह की खबरें सामने आ रही है। साथ ही पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, जिसे लेकर अभी से राजनीतिक पार्टियां अपनी तैयारियों में लग गई है। इसी बीच पंजाब की प्रमुख विपक्षी पार्टी AAP ने पंजाब की कांग्रेस सरकार पर कई तरह के आरोप लगाए हैं और प्रदेश के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को बीजेपी का एजेंट बताया है।

‘कैप्टन अमरिंदर साहब ने पंजाब के लोगों के साथ गद्दारी की है’

आम आदमी पार्टी पंजाब के प्रभारी और AAP प्रवक्ता राघव चड्ढा ने एक आरटीआई के हवाले से पंजाब के सीएम कैप्टन सीएम अमरिंदर सिंह पर आरोप लगाया है कि उन्हें केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के पारित किए जाने के बारे में एक साल पहले से ही जानकारी थी। राघव चड्ढा ने कहा, कैप्टन अमरिंदर साहब ने पंजाब के लोगों के साथ गद्दारी की है। इस गुनाह के लिए इससे छोटा शब्द इस्तेमाल नहीं हो सकता।

आप नेता ने दावा किया कि ‘7 अगस्त 2019 से कैप्टन अमरिंदर सिंह को पता था कि किसान व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अधिनियम, मूल्य आश्वासन और कृषि सेवा अधिनियम (सशक्तिकरण और संरक्षण) समझौता और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम को लाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद कैप्टन अमरिंदर सिंह को उच्चाधिकार प्राप्त समिति का सदस्य नियुक्त किया था।’

अमरिंदर सिंह और प्रधानमंत्री मोदी के बीच मैच फिक्सिंग का मामला

AAP प्रवक्ता ने कांग्रेस शासित पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को चुनौती देते हुए कहा कि वे कोई एक ऐसा सबूत पेश करें, जिससे यह साबित हो सके कि कृषि कानूनों को लेकर गठित उच्चाधिकार समिति में उन्होंने तीनों काले कृषि कानूनों के विरोध में असहमति प्रकट की थी। राघव चड्ढा ने कहा, ‘कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इन बैठकों की वास्तविकता को लेकर किसान संगठनों के साथ विचार-विमर्श किया होता तो आज अन्नदाताओं को इस कड़कड़ाती ठंड में इतनी रातें न गुजारनी पड़तीं।

स्पष्ट हो गया है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह भारतीय जनता पार्टी के एजेंट हैं, कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रधानमंत्री मोदी के बीच ये मैच फिक्सिंग का स्पष्ट मामला है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खुलेआम पंजाब के लोगों-किसानों की पीठ में छुरा घोंपा है।‘

नीतीश कुमार को है लालू यादव के स्वास्थ्य की चिंता लेकिन नहीं करेंगे फोन, जानें क्यों?

लालू यादव की स्थिति गंभीर, पैतृक गांव में हो रहा हवन, तेजप्रताप करा रहे श्रीमद्भागवत का पाठ

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *