नीतीश की बढ़ी मुश्किलें, श्याम रजक का दावा जदयू के 17 विधायक आरजेडी में जाने को तैयार

बिहार की सियासत में भूचाल मच गया है। जदयू और बीजेपी के बीच अब बात बनती नहीं दिख रही है। कयास लगाए जा रहे है कि जदयू जल्द ही मौजूदा समय में प्रदेश की प्रमुख विपक्षी पार्टी आरजेडी के साथ मिलकर सरकार बना सकती है। पिछले दिनों आरजेडी ने नीतीश कुमार को खुला ऑफर दिया था। आरजेडी ने तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनाने के साथ-साथ 2024 लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार को पीएम उम्मीदवार घोषित करने की बात कही थी। इसी बीच आरजेडी नेता और बिहार सरकार में पूर्व मंत्री श्याम रजक के एक बयान ने प्रदेश की सियासत में हलचल पैदा कर दी है।

बीजेपी की कार्यशैली से नाराज है जदयू विधायक

आरजेडी नेता श्याम रजक ने दावा किया है कि नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के 17 विधायक आरजेडी के संपर्क में है और वे कभी भी आरजेडी ज्वाइन कर सकते हैं। उन्होंने कहा, बीजेपी की कार्यशैली से नाराज जदयू के विधायक बिहार की एनडीए सरकार को गिराना चाहते हैं।

दूसरी ओर जदयू नेता और प्रवक्ता राजीव रंजन ने आरजेडी नेता के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि वह भ्रामक बयान देकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा जदयू पूरी तरह से एकजुट है और बीजेपी के साथ मिलकर बिहार में कार्यकाल पूरा करेगी और 5 साल सरकार चलाएगी। जदयू नेता ने आगे कहा कि जदयू में कोई असंतोष नहीं है, अरुणाचल की घटना से पार्टी आहत जरुर है मगर पार्टी के विधायक किसी के झांसे में नहीं आने जा रहे हैं।

बिहार की सियासत में हलचल तेज

बता दें, पिछले दिनों अरुणाचल प्रदेश में जदयू के 6 विधायकों ने बीजेपी का दामन थाम लिया था। जिसके बाद से ही बिहार की सियासी गलियारों में भूचाल मचा हुआ है। जदयू अपनी सहयोगी बीजेपी पर गठबंधन धर्म न निभाने का भी आरोप लगा चुकी है। गौरतलब है कि अरुणाचल की घटना के बाद बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और आरजेडी के दिग्गज नेता उदय नारायण चौधरी ने जदयू को एनडीए छोड़कर विपक्ष के साथ आने का ऑफर दिया था।

उन्होंने अरुणाचल की घटना का जिक्र करते हुए कहा था कि नीतीश कुमार खुद पीएम बने और तेजस्वी यादव को बिहार का सीएम बनाएं। आरजेडी नेता ने कहा था कि बीजेपी के द्वारा किए जा रहे अपमान के बाद अब नीतीश कुमार जी को फैसला लेना चाहिए। हालांकि, मौजूदा समय में आरजेडी नेता श्याम रजक के बयान ने प्रदेश की सियासत में तूफान ला दिया है। स्थिति क्या होगी, यह आने वाले कुछ ही दिनों में साफ हो जाएगा।

क्या बंगाल चुनाव 2021 में बीजेपी की ओर से सौरभ गांगुली होंगे मुख्यमंत्री चेहरा ?

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े 

Facebook Comments

Leave a Reply