बीजेपी में शामिल होने के लिए मुझे आमंत्रण की जरुरत नहीं, अमित शाह हैं मेरे अच्छे दोस्त: दिनेश त्रिवेदी

पश्चिम बंगाल में आने वाले कुछ ही महीनों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। राजनीतिक पार्टियां अपनी तैयारियों में लगी है। ममता बनर्जी के नेतृत्व में प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी टीएमसी एक बार फिर से सरकार बनाने की कोशिशों में लगी है। वहीं, दूसरी ओर देश की सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी बंगाल में ममता बनर्जी को टक्कर देने की हर मुमकिन कोशिश कर रही है।

पिछले कुछ महीनों में टीएमसी के लगभग 20 विधायक और सांसद बीजेपी में शामिल हो गए है। बीते दिन टीएमसी के राज्यसभा सांसद दिनेश त्रिवेदी ने भी इस्तीफा दे दिया। उन्होंने पार्टी में घुटन होने की बात कही थी। इस्तीफे के बाद इस बात की चर्चा तेज हो गई थी कि वह बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। हालांकि, अब दिनेश त्रिवेदी खुद इस बात के खुले संकेत दे दिए हैं कि वह जल्द ही बीजेपी में शामिल हो जाएंगे।

‘अमित शाह कई सालों से मेरे अच्छे मित्र हैं’

पूर्व केंद्रीय मंत्री रह चुके दिनेश त्रिवेदी ने कहा कि बीजेपी जॉइन करने के लिए उन्हें किसी आमंत्रण की जरूरत नहीं है। यही नहीं भगवा दल में जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यदि मैं बीजेपी जॉइन करता हूं तो इसमें कोई बुराई नहीं हैं।

एक प्राइवेट चैनल से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा, ‘दिनेश त्रिवेदी को निमंत्रण का इंतजार करने की जरूरत नहीं है। वे सभी मेरे दोस्त हैं। आज से नहीं है बल्कि पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह से मेरी पुरानी दोस्ती है। अमित भाई कई सालों से मेरे अच्छे मित्र हैं।’

त्रिवेदी ने की बीजेपी की जमकर तारीफ

दिनेश त्रिवेदी ने कहा कि ‘मैं जा सकता हूं। मैं कभी भी बीजेपी में जा सकता हूं और इसमें कुछ भी गलत नहीं है। यदि वह मेरा स्वागत कर रहे हैं, जैसा कि मैंने सुना है तो मेरे लिए यह खुशी की बात है। यदि हर जगह उन्हें लोग स्वीकार कर रहे हैं तो इसका मतलब है कि देश के लिए वह कुछ अच्छा कर रहे हैं।‘

पूर्व टीएमसी नेता ने ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा, ‘हमने साथ मिलकर पार्टी बनाई थी। ममता बनर्जी, अजित पंजा, मुकुल रॉय और मैं साथ थे। सब मिलकर पार्टी की आत्मा थे। यहां तक कि उस दौर में 5,000 रुपये के दिल्ली के टिकट के लिए तरसते थे। आज वह आत्मा चली गई है। यदि आप किसी कंसल्टेंट को 100 करोड़ रुपये देते हैं और दूसरी तरफ कहते हैं कि हम गरीबों की पार्टी हैं तो यह गलत है।‘

प्रशांत किशोर पर बोला हमला

बता दें, दिनेश त्रिवेदी ने बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में ममता बनर्जी के चुनावी सलाहकार के रुप में काम कर रहे प्रशांत किशोर को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, ममता को वाम दलों को हराने के लिए सलाहकार की जरुरत नहीं थी। त्रिवेदी ने जिन नेताओं को पार्टी की आत्मा बताया। उनमें से अजित पंजा की मौत हो चुकी है। मुकुल रॉय काफी पहले ही बीजेपी का दामन थाम चुके हैं। दिनेश त्रिवेदी अब बीजेपी में जाने ही वाले हैं। लेकिन टीएमसी की ओर से ममता बनर्जी इस बार फिर से चुनावी मैदान में हैं।

यह भी पढ़ें:

अयोध्या राम मदिर: कोरोना के कहर बावजूद राम मंदिर के लिए सिर्फ 27 दिनों में 1,500 करोड़ का मिला अनुदान

बिहार में कोरोना टेस्टिंग में चल रहा बड़ा घोटाला, राजद सांसद मनोज झा ने की जाँच की मांग

पढ़िए, बीजेपी में शामिल होने की संभावनाओं पर क्या बोले गुलाम नबी आजाद

लेटेस्ट खबरों के लिए हमारे facebooktwitterinstagram और youtube से जुड़े

Facebook Comments

Leave a Reply