अटारी-वाघा बॉर्डर के रास्ते हिन्दुस्तान पहुंचे विंग कमांडर अभिनंदन, F-16 को खदेड़ते पाकिस्तान जा पहुंचे थे

27 फ़रवरी को पाकिस्तानी F-16 विमान को उसकी सीमा में खदेड़ने के क्रम में पाकिस्तान जा पहुंचे विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान आज हिन्दुस्तान सुरक्षित वापस लौट आये हैं.लगभग तीन दिन तक पाकिस्तान के कब्जे में रहने के बाद भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन को आज पाकिस्तान ने अटारी-वाघा बॉर्डर के रास्ते हिन्दुस्तान को सौंपा.

अभिनंदन के स्वागत के लिए सुबह से ही भारी संख्या में लोग अटारी-वाघा बॉर्डर पर मौजूद थे. इस दौरान हाथ में तिरंगा लिए और नारे लगाते हुए लोग अभिनंदन का इंतजार कर रहे थे. हालाकि पाकिस्तान इस मौके को पूरी तरह भुनाना चाहता था. वह विश्व को दिखाना चाहता था पाकिस्तान किस तरह शांति की पहल कर रहा है. इसीलिए पाकिस्तान भारत को अटारी बॉर्डर पर बीटिंग रिट्रीट के दौरान अभिनंदन को सौंपना चाहता था लेकिन भारत ने पाकिस्तान के इस प्रस्ताव को ठुकरा कर उसके पैंतरे को नाकाम कर दिया. और यह फैसला किया गया कि बीटिंग रिट्रीट समारोह अटारी बॉर्डर आज नही होगा.

उधर, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी “पीस ऑफ जेस्चर” का राग अलाप कर भारतीय पायलट को सौंपने की बात कही थी. लेकिन, सच ये है कि पाकिस्तान को वैसे भी जेनेवा समझौते के तहत हमारे विंग कमांडर को वापस लौटाना ही था. जेनेवा समझौते के तहत पाकिस्तान अभिनंदन को किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचा सकता था. पाक को हर हाल में अभिनंदन को वापस लौटाना ही था उसके पास दूसरा कोई विकल्प नही था.

जानिए, चाह कर भी पाकिस्तान क्यों नहीं कर सकता हमारे पकड़े गए सैनिक से बदसलूकी

बता दें कि 27 फरवरी बुधवार की सुबह पाकिस्तान के लड़ाकू विमान F-16 को खदेड़ते-खदेड़ते अभिनंदन का मिग 21 विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और एलओसी क्रॉस करके पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में गिर गया था. वहां उन्हें पाकिस्तानी सेना ने हिरासत में ले लिया था

Facebook Comments

Praful Shandilya

praful shandilya is a journalist, columnist and founder of "The Nation First"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *